Loading...

मोदी सरकार की ये है नई स्कीम, अब इन लोगों को 24 घंटे मिलेगी बिजली

0 21

अगर आप ईमानदारी से बिजली का उपयोग करते हैं तो आपके लिए खुशखबरी है. जी हां, दरअसल अब ईमानदारी से बिजली इस्तेमाल करने वालों को 24 घंटे बिजली की सप्लाई होगी वहीं, बिजली चोरी वाले इलाकों में ज्यादा कटौती होगी.

दरअसल मोदी सरकार ईमानदार बिजली कंज्यूमर के लिए नई स्कीम ला रही है. बता दें कि इसके तहत ईमानदार कंज्यूमर को अब 24 घंटे बिजली मिलेगी. दरअसल केंद्र सरकार राज्यों के साथ मिलकर ऐसी प्लानिंग तैयार कर रही है जिसके तहत वैसे एरिया जहां बिजली की चोरी नहीं होती है वहां 24 घंटे बिजली की सप्लाई की जा सके.

जानिए किस आधार पर तैयार हुई योजना

आपको बता दें कि सूत्रों के मुताबिक बिजली वितरण घाटा के आधार पर ये योजना तैयार की गई है जिसके लिए एरिया के आधार पर बिजली घाटे की जानकारी मांगी गई है. दरअसल इस योजना के तहत 15% से कम घाटा वाले एरिया में 24 घंटे सप्लाई संभव है.

Loading...

आपको बता दें कि इस योजना में घाटा वाले इलाके में कंज्यूमर को बिल चुकाने के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा. दरअसल इन इलाकों में स्मार्ट मीटर लगाने की भी योजना है.

मालूम हो कि ये योजना पावर रिफॉर्म 2.0 का ही एक हिस्सा होगी. दरअसल चुनाव से पहले सरकार ने कंपनियों से इस बारे में जानकारी मांगी थी. बता दें कि अभी 19 राज्यों में बिजली विरतण घाटा 15% से ज्यादा है.

सूत्रों के अनुसार ये हैं प्रमुख बिंदु

सरकार बिजली बंटवारे में भी कटेगी मदद

ऐसी योजना है कि बिजली वितरण घाटे के आधार पर बिजली सप्लाई होगी

ऐसी भी प्लानिंग है कि किस क्षेत्र में कितनी बिजली सप्लाई हो

ये भी सामने आया है कि सरकार ने क्षेत्र के आधार पर बिजली वितरण घाटे की जानकारी मांगी है

ऐसा कहा जा रहा है कि जहां 15% से कम घाटा है वहां चौबीसों घंटे बिजली की सप्लाई होगी

इसके अलावा जो कंज़्यूमर ईमानदारी से बिल चुका रहे हैं उन्हें चौबीसों घंटे बिजली की सप्लाई होगी

दरअसल ऐसा इसलिये ताकि ज्यादा बिजली चोरी वाले इलाके सप्लाई के फ़र्क़ को समझें

बताया गया है कि जहां 15% से ज्यादा वितरण घाटा है वहां कंज़्यूमर को बिल चुकाने को प्रोत्साहित किया जाएगा

जो ज्यादा घाटे वाले इलाके हैं उनमें स्मार्ट मीटर पहले लगाने की योजना है

बताया गया है कि ये नई योजना पावर रिफार्म 2.0 का हिस्सा होगा

चुनावों से पहले भी सरकार ने वितरण घाटे के आधार पर एरिया की जानकारी मांगी थी

यह भी ज्ञात हुआ कि करीब 19 राज्यों में बिजली वितरण घाटा 15% से ज़्यादा

एक दिन में हो सकते हैं 3 तरह के बिजली के टैरिफ

आपको बता दें कि केंद्र की मोदी सरकार बिजली सप्लाई को बेहतर कर ग्राहकों को बड़े बिजली कट से बचाने के लिए बड़े कदम उठाने की तैयारी में है. जी हां, दरअसल एक दिन में तीन तरह के पावर टैरिफ हो सकते हैं. वहीं, सुबह, दोपहर और शाम को बिजली की अलग-अलग दर होंगी. हालांकि रात की बिजली की दर अभी जितनी है उससे ज्यादा नहीं होगी.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.