Loading...

मोदी सरकार का किसानों को तोहफा, 14 दिन में बन जाएगा किसान क्रेडिट कार्ड, आसानी से मिलेगा खेती-किसानी के लिए सस्ता लोन

0 8

मोदी सरकार ने अपने दूसरे कार्यकाल की शुरुआत से ही इस बात के संकेत दे दिए हैं कि इस बार सरकार का मुख्य फोकस किसानों पँर ही होगा. यही कारण है कि अब केंद्र सरकार ने किसानों को साहूकारों के चंगुल से बचाने के लिए अभियान शुरू कर दिया है.

जी हां, दरअसल इसके लिए फोकस किसान क्रेडिट कार्ड यानी कि केसीसी पर है, ताकि किसान किसी व्यक्ति की बजाय बैंकों से सबसे सस्ती दर पर पैसा लेकर खेती-किसानी को आगे बढ़ा सकें.

आपको बता दें कि इसके लिए सरकार ने बैंकों को सख्त निर्देश दिए हैं कि आवेदन के 15वें दिन तक यानी दो हफ्ते के अंदर केसीसी बन जाए. दरअसल किसान क्रेडिट कार्ड बनवाने के लिए सरकार ने गांव स्तर पर अभियान चलाने का फैसला भी लिया है.

एक आंकड़े के अनुसार अभी देश में मुश्किल से 7 करोड़ किसानों के पास ही किसान क्रेडिट कार्ड है, जबकि किसान परिवारों की कुल संख्या 14.5 करोड़ है. दरअसल इसके पीछे की वजह यह है कि बैंकों ने इसके लिए प्रक्रिया बहुत जटिल बनाई हुई है.

Loading...

हालांकि मोदी सरकार की मंशा इसके बिल्कुल विपरीत है. दरअसल सरकार के सामने वर्ष 2022 तक किसानों की आय दोगुनी करने का बड़ा लक्ष्य है. इसलिए वो चाहती है कि किसान बैंकों से सस्ते ब्याज दर पर लोन लेकर खेती करें न कि साहूकारों के जाल में फंसकर आत्महत्या. इसलिए अब केंद्र की मोदी सरकार ने बैंकों से केसीसी बनवाने के लिए लगने वाली फीस खत्म करवा ली है.

मालूम हो कि सरकार के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का कहना है कि सरकार हर पात्र किसान को केसीसी जारी करना चाहती है और इसलिए राज्यों के साथ मिलकर काम कर रही है. उन्होंने कहा कि जिन राज्यों में बहुत कम किसानों ने इसका फायदा लिया है वहां केंद्र की टीम दौरा करेगी.

केसीसी बनाने के लिए किसान से क्या लेगा बैंक

आपको बता दें कि केसीसी बनाने के लिए गांवों में जो कैंप लगाए जाएंगे उनमें किसानों को पहचान पत्र और निवास प्रमाण पत्र, आधार कार्ड, जमीन का रिकॉर्ड और फोटो देनी होगी. दरअसल इतने में ही बैंक को केसीसी बनाना पड़ेगा.

मालूम हो कि जिला स्तरीय बैंकर्स कमेटी गांवों में कैंप लगाने का कार्यक्रम बनाएगी, जबकि राज्य स्तरीय कमेटी इसकी निगरानी करेगी. बता दें कि इसमें सबसे बड़ी भूमिका जिलों के लीड बैंक मैनेजरों की तय की गई है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि देश के कृषि एवं किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने लोकसभा में यह जानकारी दी है कि अब बैंकों को आवेदन के 15 दिन में ही किसान क्रेडिट कार्ड बनाना पड़ेगा.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.