Loading...

क्या आपको पता हैं कि 2000, 500 और 200 रुपए के नोट छापने में सरकार आखिर कितना खर्च करती है, जानिए

0 5

भारतीय करेंसी में 2000 का नोट सबसे अधिक दाम का है ये तो सब जानते हैं लेकिन क्या आप जानते हैं कि भारत में 2000 रुपये के एक नोट को छापने के लिए कितने रुपये का खर्च आता है.

दरअसल अगर आपको ये नहीं पता तो हम आपको इसकी जानकारी दे देते हैं. दरअसल ऐसे ही एक सवाल के जवाब में मंगलवार को राज्यसभा में वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने कुछ आंकड़े पेश किए.

बता दें कि इनके मुताबिक, 2018-19 के दौरान 2000 का एक नोट छापने के खर्च में 18.4 % की कमी आई है. दरअसल सरकारी आंकड़ों के अनुसार 2017-18 में 2000 का एक नोट छापने की लागत 65 पैसे ज्यादा थी. मालूम हो कि नवंबर 2016 में भारत सरकार ने 2000 रुपये के नोट को छापने का ऐलान किया था.

Loading...

जानिए कितने में छपता है 2000 रुपये का एक नोट

आपको बता दें कि संसद में पेश किए आंकड़ों के मुताबिक साल 2018-19 में 2000 का एक नोट छापने के लिए बीआरबीएनएमपीएल को 3.53 रुपये खर्च करने पड़ते थे. जबकि, इससे पहले फाइनेंशियल ईयर 2017-18 में यह लागत 4.18 रुपये थी.

कितना आता है 500 रुपये के एक नोट पर खर्च

मालूम हो कि 500 रुपये के एक नोट को छापने के लिए कितना खर्च होता है इसके जवाब में संसद में जारी आंकड़ों के मुताबिक, साल 2018-19 में 500 रुपये का एक नोट छापने के लिए 2.13 रुपये खर्च हुए. वहीं, साल 2017-18 में यह लागत 2.39 रुपये थी.

200 रुपये के नोट को छापने का खर्च

आपको बता दें कि 200 का एक नोट छापने के लिए 2018-19 में 2.15 रुपये खर्च हुए. वहीं, साल 2017-18 में यह खर्च 2.24 रुपये था.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.