Loading...

इस वास्तुदोष के कारण कंगाल हो जाता है आदमी और पानी की तरह बह जाता है कमाया हुआ पैसा

0 3

घरों के अंदर पानी का टैंक बनवाते समय उनकी सही दिशा का चुनाव जरूरी करना चाहिए। सही दिशा में टैंक रखने से सुख समृद्धि में बढ़ोतरी होती है तो वहीं गलत दिशा में रखने से या बनवाने से वास्तु दोष जैसी तमाम परेशानियां भी उत्पन्न होती है। जिसकी वजह से घर में रहता है तनाव बढ़ता है और बच्चों का पढ़ाई में मन नहीं लगता है। आपको बता दें पानी की टैंक को दक्षिण पश्चिम दिशा मैं रखना शुभ माना जाता है। घर की छत पर इस दिशा में पानी की टंकी रखने से यह भाग अन्य भागों की अपेक्षा ज्यादा ऊंचा हो जाता है। जो कि घर में सुख समृद्धि उन्नति का कारक माना जाता है।

सही दिशा में होनी चाहिए घर की सीढ़ियां

आपको बता दें कि वास्तुशास्त्र में घर की सीढ़ियों का विशेष महत्व बताया गया है। वहीं के दक्षिणी भाग यानी कि पृथ्वी तत्व की प्रधानता वाला भाग किसे कहते हैं। उस दिशा में सीढ़ियां होना चाहिए जोकि वास्तु के हिसाब से काफी ज्यादा शुभ मानी जाती है। कहते हैं किस दिशा में सीढ़ियां बनवाने से घर में धन-संपत्ति बनी रहती है।

Loading...

नल का लगातार रिसना

आपको बता दें कि हमारे यहां यानी कि भारतीय संस्कृति मैनेजर को लक्ष्मी जी का प्रतीक माना जाता है। यदि आपके घरों में नलों से पानी टपकता रहता है। और पाइप लाइन से लीकेज होती है। ऐसा कहा जाता है कि यहां आर्थिक नुकसान का संकेत है। और वास्तु के मुताबिक नल से पानी का टपकना यानी कि धीरे-धीरे आपके धन का खर्च होने जैसा संकेत है।

दरवाजे से भी होता है वास्तु दोष

कहा जाता है कि अगर किसी के घर का मुख्य दरवाजा साफ सुथरा नहीं रहता है। तो ऐसे में लक्ष्मी जी का भी उसके घर में प्रवेश नहीं करती है। आपको बता दें कि जिस घर का दरवाजा दक्षिण मुखी होता है। उस घर में हमेशा परेशानियां बनी रहती है। अगर आपके घर का मुख्य दरवाजा टूटा हुआ होता है या फिर वो ढंग से खुलता नहीं है। वैसे मैं भी वास्तु दोष माना जाता है जो कि आपके घर के अंदर बीमारियों आर्थिक परेशानियों को पैदा करता है।

किचन की जगह

कहते हैं कि अगर अच्छे से धन कमाना हो या धन की बरकत करनी हो तो रसोई हमेशा घर की वास्तु के हिसाब से होनी चाहिए। आपको बता दें यदि आपके घर की किचन पश्चिम दिशा में है तो आपके घर में खूब धन आएगा। लेकिन बरकत नहीं होगी कहने का तात्पर्य है कि इस दिशा में रसोई होने से जातक के पास पैसा तो आता है लेकिन किसी ना किसी रूप में खर्च हो जाता है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.