Loading...

बेन स्टोक्स के पिता ने कहा- न्यूजीलैंड के साथ हुई नाइंसाफी, दोनों टीमों को मिलनी चाहिए थी ट्रॉफी

0 1

रविवार को इंग्लैंड के लॉर्ड्स मैदान पर न्यूजीलैंड और इंग्लैंड के बीच विश्व कप का फाइनल हुआ. इंग्लैंड की टीम ने फाइनल मैच जीत लिया. इस मैच में पहले मुकाबला टाई हो गया. इसके बाद सुपर ओवर भी टाई हो गया और अंत में आईसीसी के नियम के हिसाब से फैसला सबसे ज्यादा बाउंड्री लगाने वाली टीम के पक्ष में गया. इंग्लैंड की टीम की जीत के हीरो बेन स्टोक्स रहे, जिन्होंने शानदार पारी खेली.

बेन स्टोक्स भले ही आज इंग्लैंड के नागरिक हों और इंग्लैंड की टीम के लिए मैच खेलते हों. लेकिन आपको बता दें कि बेन स्टोक्स का जन्म न्यूजीलैंड के क्राइस्टचर्च में हुआ था. बेन स्टोक्स के परिवार वाले आज भी न्यूजीलैंड में रहते हैं. बेन स्टोक्स के पिता जेरार्ड स्टोक्स ने न्यूजीलैंड टीम की हार के बाद स्थानीय चैनल को दिए इंटरव्यू में कहा कि आज न्यूजीलैंड में जितने पिता है, उनमें से सबसे ज्यादा नफरत से मुझसे की जा रही होगी. मेरे लिए तो दोनों तरफ ही बराबर थे.

इतना ही नहीं बेन स्टोक्स के पिता न्यूजीलैंड की हार से बहुत निराश हैं. उनका कहना है कि यह बहुत दुख की बात है कि न्यूजीलैंड को बिना ट्रॉफी के देश वापस लौटना पड़ा. मैं आज भी न्यूजीलैंड का समर्थक हूं. मैं चाहता था कि दोनों टीमों को संयुक्त रूप से विजेता घोषित किया जाए.

बता दें कि इस मैच में बेन स्टोक्स ने 84 रन की नाबाद पारी खेली थी और वे टीम को टाई तक ले गए. इसके बाद सुपर ओवर में बल्लेबाजी करते हुए उन्होंने 8 रन बनाए. वह फाइनल मैच में मैन ऑफ द मैच चुने गए. बेन स्टोक्स के पिता ने कहा कि उसने अपने करियर में बहुत उतार-चढ़ाव देखे हैं. वर्ल्ड कप में उसे अपनी प्रतिभा दिखाने का मौका मिला.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.