Loading...

World Cup 2019: ऐसे 3 भारतीय खिलाड़ी जिनके लिए शायद यह आखरी विश्व कप था

0 1

वर्ल्ड कप 2019 का टूर्नामेंट अब खत्म हो चुका है। 14 जुलाई को इसका आखिरी मैच इंग्लैंड और न्यूजीलैंड के बीच खेला गया था। वहीं अगर हम भारतीय टीम की बात करें तो उन्होंने पूरे टूर्नामेंट के दौरान शानदार प्रदर्शन किया। लेकिन सेमीफाइनल में है वह न्यूजीलैंड के खिलाफ हारकर टूर्नामेंट से बाहर हो गई। हालांकि वर्ल्ड कप के दौरान टीम इंडिया में युवा और अनुभवी खिलाड़ियों का अच्छा तालमेल देखा गया था। फिर भी टीम ने लास्ट मूवमेंट पर निराशाजनक प्रदर्शन देकर भारतीय प्रशंसकों का दिल तोड़ दिया। लेकिन अब आपको बता दें कुछ अनुभवी खिलाड़ी जो इस वर्ल्ड कप टूर्नामेंट का हिस्सा थे। वह अब शायद ही आगामी वर्ल्ड कप की टीम का हिस्सा होंगे।

दिनेश कार्तिक

इस लिस्ट में सबसे पहला नाम आता है दिनेश कार्तिक का। आपको बता दें दिनेश कार्तिक को धोनी की गैरमौजूदगी के दौरान ही मैदान पर आने का मौका मिलता है। वर्ल्ड कप के लिए जब दिनेश कार्तिक को ऋषभ पंत की जगह चुना गया था। तो लोगों ने काफी सारे सवाल किए थे। हालांकि तीन मुकाबले खेलने के बाद कार्तिक ने उन सवालों सही भी साबित किया था।

आपको बता दें वर्ल्ड कप के टूर्नामेंट में कार्तिक ने बांग्लादेश के विरुद्ध सिर्फ 8 रन बनाए थे सेमीफाइनल के दौरान जिताऊ पारी खेलने का मौका मिला तब वह बुरी तरीके से फेल हो गए हालांकि सेमीफाइनल के दौरान रन बनाकर अपने आप को एक शानदार बल्लेबाज साबित करने के लिए दिनेश कार्तिक के पास यह सुनहरा मौका था लेकिन उन्होंने 25 गेंदों पर 6 रन बनाकर अपना विकेट गंवा दिया।

Loading...

केदार जाधव

हालांकि यह कहना गलत नहीं होगा कि वर्ल्ड कप के टूर्नामेंट के लिए केदार जाधव भारतीय टीम के लिए काफी ज्यादा अलग ही साबित हुए हैं। क्योंकि उन्हें वर्ल्ड कप के लिए एक ऑलराउंडर के तौर पर चुना गया था। लेकिन उन्हें मुश्किल से ही बल्लेबाजी या गेंदबाजी करने का मौका मिला होगा। ज्यादा मिस वर्ल्ड कप के दौरान साथ ही मैच खेले हैं और उन्हें छह ओवर में गेंदबाजी करने का मौका मिला था। इसके साथ मैच खेलते हुए ज्यादा बने एक अर्धशतक सहित कुल 80 रन बनाए थे। ग्रुप स्टेज में इंग्लैंड के विरुद्ध हारने के बाद उनको टीम से बाहर कर दिया गया था। भले ही ज्यादा को आने वाले मैचों के लिए भारतीय टीम में शामिल किया जाए। लेकिन अगले वर्ल्ड कप में वह शायद ही टीम का हिस्सा होंगे।

महेंद्र सिंह धोनी

वर्ल्ड कप के टूर्नामेंट के दौरान सेमीफाइनल में भयंकर प्रेशर में बल्लेबाजी करते हुए धोनी ने सिर्फ़ 72 गेंदों में 50 रनों की पारी खेली थी। लेकिन वह भारत को इसके बाद भी जीत नहीं दिला पाए। आपको बता दें धोनी ने वर्ल्ड कप में 9 मैच खेलते हुए 273 रन बनाए थे। इतना ही नहीं धोनी भारत के लिए इस चौथे सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाज साबित हुए थे।

हालांकि धोनी अब 38 साल के हो चुके हैं। लेकिन वह फिर भी इनके सबसे फिट खिलाड़ियों में से एक माने जाते हैं। लेकिन अब उनको देखकर लगता है कि वह शायद ही आगामी वर्ल्ड कप खेल पाए होने का भविष्य को लेकर क्या सोचना है। यह भी किसी को भी नहीं पता यह बात सभी जानते हैं कि धोनी सही समय पर सही निर्णय लिए जाने जाते हैं।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.