Loading...

देहात में करोबार करने वालो के लिए बड़ी खुशखबरी, मोदी सरकार का ये नया कार्ड दूर करेगा पैसों की किल्लत

0 24

अगर आप भी किसी गांव अथवा कस्बे में दुकानदार के रूप में अपनी रोजी रोटी चलाते हैं तो जाहिर है कि अपने नकदी की किल्लत का सामना खूब किया होगा या यूं कहें कि अभी भी करते ही होंगे लेकिन अब ऐसा नहीं होगा।

जी हां, दरअसल अब छोटे दुकानदारों और ग्रामीण इलाके में बिजनेस करने वाले लोगों को रोज-रोज के बिजनेस से जुड़े खर्चों के लिए नकदी की किल्लत से नहीं जूझना होगा। बता दें कि एचडीएफसी बैंक और भारत सरकार के उपक्रम सीएससी ने इसके लिए एक डिजिटल सॉल्यूशन पेश किया है।

दरअसल एचडीएफसी बैंक और कॉमन सर्विसेज सेंटर यानी कि सीएससी एसपीवी ने मिलकर एक स्मॉल बिजनेस मनीबैक क्रेडिट कार्ड लॉन्च किया है। मालूम हो कि अपनी तरह के इकलौते इस क्रेडिट कार्ड को विशेष तौर पर सीएससी के विलेज लेवल एंटरप्रेन्योर्स यानी कि वीएलईएस और वीएलई सोर्स्ड कस्टमर्स के लिए डिजाइन किया गया है। दरअसल यह यूजर्स को उनके रोज-रोज के बिजनेस खर्चों के लिए क्रेडिट तक आसान पहुंच उपलब्ध कराएगा।

आपको बता दें कि स्मॉल बिजनेस मनीबैक क्रेडिट कार्ड को एचडीएफसी बैंक के मैनेजिंग डायरेक्टर आदित्य पुरी और सीएससी के सीईओ दिनेश कुमार त्यागी ने लॉन्च किया। बता दें कि इसे नई दिल्ली के सिरी फोर्ट ऑडिटोरियम में सीएससी दिवस पर वीएलईएस के लिए सीएससी एसपीवी द्वारा आयोजित एकदिवसीय वर्कशॉप में लॉन्च किया गया।

Loading...

मालूम हो कि सीएससी के साथ इनरॉल वीएलईएस दूर-दराज के इलाकों में बैंकिंग प्रॉडक्ट और सर्विस दे सकते हैं। दरअसल इस बेहद ही खास पहल का लक्ष्य ग्रामीण भारत में रहने वाले ऐसे लाखों लोगों को बैंकिंग सर्विस उपलब्ध कराना है, जिनके पास फॉर्मल बैंकिंग की एक्सेस नहीं है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें सीएससी एसपीवी एक स्पेशल पर्पस व्हीकल है, जिसे इलेक्ट्रॉनिक्स एंड इनफॉरमेशन टेक्नोलॉजी मंत्रालय ने सरकार के डिजिटल इंडिया प्रोग्राम के तहत बनाया है। मालूम हो कि इन्हें लोकल स्किल्ड एंटरप्रेन्योर्स के द्वारा चलाया जाता है, जिन्हें वीएलई कहते हैं।

दरअसल केंद्र की मोदी सरकार का मकसद यह है कि गांवों-कस्बों और छोटे शहरों में स्थानीय स्तर पर रोजगार और बिजनैस के साधन उपलब्ध कराये जायें ताकि पलायन रुक सके और गांवो का विकास गांवों के लोगों द्वारा निर्धारित और नियमित होता रहे।

आपको बता दें कि छोटी जगहों पर सबसे बड़ी समस्या पैसे की रहती है। ऐसे में बैंक छोटी जगहों और छोटे व्यवसाय और व्यापार के लिए साधारणतःलोन नहीं देते। दरअसल इन्हीं सभी दिक्कतों को आसान करते हुए सरकारी उपक्रम सीएसी ने यह क्रेडिट कार्ड शुरु किया है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.