Loading...

चेतेश्वर पुजारा बोले- टीम में नंबर 4 की कमी को मैं कर सकता हूं पूरा

0 6

भारतीय टेस्ट क्रिकेट टीम के अनुभवी बल्लेबाज चेतेश्वर पुजारा ने हाल ही में कहा कि यदि उन्हें भारतीय वनडे क्रिकेट टीम में खेलने का मौका मिलता है तो वह नंबर चार पर खुद को साबित कर सकते हैं। बता दें कि चेतेश्वर पुजारा घरेलू क्रिकेट में लगातार बेहतरीन प्रदर्शन कर रहे हैं। अंतरराष्ट्रीय टेस्ट क्रिकेट में भी चेतेश्वर पुजारा का प्रदर्शन बहुत ही बेहतरीन रहा है।

भारतीय टीम के इस दिग्गज बल्लेबाज ने बताया कि टीम में चुने जाना मेरे हाथ में नहीं है। मैं तीनों फॉर्मेट में खेलना चाहता हूं। मुझ में ऐसा करने की पूरी क्षमता है। मुझे नीली जर्सी पहनी है। अभी तक मेरी इच्छा पूरी नहीं हो पाई है।

जैसा कि आप सभी लोग जानते होंगे कि विश्व कप 2019 भारतीय टीम हार गई क्योंकि नंबर 4 पर कोई भी ऐसा बल्लेबाज नहीं था जो लंबी पारी खेल सके। विश्व कप से बहुत पहले से ही यह समस्या चल रही है। लोकेश राहुल को वर्ल्ड कप में नंबर चार पर बल्लेबाजी के लिए चुना गया। लेकिन शिखर धवन चोटिल हो गए। फिर लोकेश राहुल को बतौर ओपनर खिलाया गया। लोकेश राहुल के बाद विजय शंकर इस नंबर पर बल्लेबाजी करने उतरे। लेकिन वह कुछ खास नहीं कर सके। वह चोटिल हो गए और उनको विश्वकप से बाहर कर दिया गया। विजय शंकर के बाद ऋषभ पंत को आजमाया गया। ऋषभ पंत भी कुछ अच्छा नहीं कर पाए। वर्ल्ड कप के समाप्त होने के बाद खुद रवि शास्त्री ने यह बात स्वीकार की कि भारतीय टीम में नंबर 4 पर बल्लेबाजी की समस्या बनी हुई है।

Loading...

पुजारा भारत और वेस्टइंडीज के बीच होने वाली टेस्ट सीरीज के लिए तैयारी कर रहे हैं। इसके अलावा उनकी नजरें टेस्ट चैंपियनशिप पर भी है। इन दिनों पुजारा तेज और उछाल भरी पिचों पर खेलने की प्रैक्टिस कर रहे हैं। पुजारा ने बताया कि पहले सिर्फ टेस्ट सीरीज मायने जीतना ही मायने रखता था। लेकिन अब हर एक टेस्ट मैच जीतना मायने रखेगा क्योंकि टेस्ट चैंपियनशिप की लोकप्रियता बढ़ाने के लिए मैच के अंक बहुत ही महत्वपूर्ण होंगे।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.