Loading...

नाबालिग लड़के ने मुंह में कपड़ा ठूंसकर 80 साल की बुजुर्ग महिला से किया दुष्कर्म

0 7

बिहार के मधुबनी जिले से एक बेहद ही हैरान कर देनी वाली सनसनीखेज घटना सामने आई है। दरअसल यहां एक 15 साल के नाबालिग लड़के ने एक 80 साल की बुजुर्ग महिला से बलात्कार किया है। बता दें कि पुलिस ने आरोपी लड़के को गुरुवार को गिरफ्तार कर लिया। बता दें कि मधुबनी के पुलिस अधीक्षक सत्य प्रकाश के अनुसार यह घटना बुधवार देर रात अंधराठाढ़ी थाना सीमा के अंतर्गत जमैला गांव में हुई।

उन्होंने बताया कि आरोपी लड़का दूर का रिश्तेदार है और पीड़िता का पड़ोसी है। उसने कथित तौर पर पीड़िता के साथ आधी रात को बलात्कार किया। उसने महिला के मुंह में कपड़ा ठूंसा जिससे किसी को उसकी चीखें सुनाई न पड़े।

हालांकि, पीड़िता के जोर-जोर से रोने के बाद परिवार के सदस्यों और पड़ोसियों की नींद उड़ गई और लड़के को पकड़ लिया गया। बता दें कि पकड़ने के बाद उसकी जमकर पिटाई की गई और फिर आरोपी को पुलिस के हवाले कर दिया गया। पुलिस ने बताया कि आरोपी की बुरी तरह से पिटाई की गई है उसकी शरीर पर गंभीर चोटें है।

मालूम हो कि पुलिस अधीक्षक के मुताबिक महिला की बहू के आधार पर एफआईआर दर्ज की गई है। हालांकि शिकायतकर्ता ने यह भी दावा किया है कि आरोपी नाबालिग नहीं है उसके प्रमाण पत्र पर जो उसे नाबालिग दिखाते हैं वह फर्जी है।

Loading...

बता दें कि एसपी ने कहा कि मेडिकल जांच के जरिए यह पता लगाया जाएगा। उन्होंने कहा कि मजिस्ट्रेट के सामने पेश करने के बाद आरोपी को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। इस मामले की गहराई से छान-बीन की जा रही है।

मालूम हो कि इससे पहले पुलिस की जानकारी के अनुसार कमरूद्दीन नगर गांव में बृहस्पतिवार को 30 वर्षीय युवक ने एक बुजुर्ग महिला से कथित रूप से बलात्कार किया था और विरोध करने पर उसकी पिटाई की थी। दरअसल पुलिस ने बताया था कि 75 वर्षीय महिला खेत की तरफ गयी थी जब आरोपी राजीव ने उसके साथ कथित रूप से बलात्कार किया और प्रतिरोध करने पर उसे पीटा था।

दरअसल उन्होंने बताया कि महिला को अस्पताल में भर्ती कराया गया था। बता दें कि ग्रामीणों ने बाद में आरोपी को पकड़ा और उसे पुलिस को सौंप दिया था। दरअसल क्षेत्राधिकारी विजय प्रकाश ने बताया कि भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कराया गया था और आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया था।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.