Loading...

इस वर्ल्ड कप में ICC के इन 5 नियमों को लेकर भड़के फैंस, बोले- समझ से परे है डकवर्थ लुईस नियम

0 2

विश्व कप 2019 का फाइनल मुकाबला बहुत ही रोमांचक रहा जिसे इंग्लैंड की टीम ने जीत लिया। इंग्लैंड और न्यूजीलैंड ने 241-241 रन बनाए। इसके बाद सुपर ओवर खेला गया जिसमें भी दोनों टीमों ने बराबर रन बनाए। अंत में सबसे ज्यादा बाउंड्री लगाने वाली इंग्लैंड की टीम को विजेता घोषित किया गया। हम आपको आईसीसी द्वारा वर्ल्ड कप में बनाए गए पांच ऐसे नियमों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसकी हर कोई आलोचना कर रहा है। आइए जानते हैं।

1. बाउंड्री के आधार पर जीत

सुपर ओवर में इंग्लैंड और न्यूजीलैंड की टीम ने 15-15 रन बनाए। सुपर ओवर टाई हो गया। लेकिन सबसे ज्यादा बाउंड्री लगाने वाली इंग्लैंड की टीम को विजेता घोषित किया गया। इंग्लैंड ने इस मैच में 26 बाउंड्री लगाई। न्यूजीलैंड ने 17 बाउंड्री लगाई।

2. रन रेट की वजह से मैच जीतने के बावजूद भी पाकिस्तान का बाहर होना

Loading...

विश्व कप 2019 के लीग मैचों के समाप्त होने तक पाकिस्तान और न्यूजीलैंड के बराबर बराबर अंक थे। लेकिन नेट रन रेट की वजह से पाकिस्तान की टीम विश्वकप से बाहर हो गई और न्यूजीलैंड सेमीफाइनल में प्रवेश कर गई। जबकि लीग स्टेज मैच में पाकिस्तान ने न्यूजीलैंड को हराया था।

3. डीआरएस का अजीबोगरीब नियम

यदि अंपायर किसी खिलाड़ी को एलबीडब्ल्यू आउट नहीं देता है तो फिर दूसरी टीम का कप्तान डीआरएस लेता है। जब रिप्ले देखा जाता है तो पता चलता है कि गेंद विकेट से लग रही है। फिर भी बल्लेबाज को आउट नहीं दिया जाता है। अंपायर्स कॉल को ही सही माना जाता है। हालांकि इससे डीआरएस बच जाता है।

4. DLS समझ से बाहर

आज तक कोई भी डकवर्थ लुईस नियम को नहीं समझ पाया। जब मैच में बारिश होती है तो डकवर्थ लुईस नियम अपनाया जाता है। इससे कई टीमों को फायदा हुआ तो कई टीमों को नुकसान।

5. रिव्यू खत्म हो जाए तो फिर क्या

एक पारी में दोनों टीमों को एक-एक रिव्यू मिलता है। यदि रिव्यू सही पाया जाता है तो रिव्यू बच जाता है नहीं तो खत्म हो जाता है। लेकिन जब टीम के पास रिव्यू नहीं है और विरोधी टीम का खिलाड़ी आउट है तो फिर टीम क्या करे। इसलिए आईसीसी को कोई ऐसा नियम निकालना चाहिए कि बिल्कुल भी पक्षपात ना हो।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.