Loading...

सेमीफाइनल में धोनी को ‛रन आउट’ करके बन गया था हीरो, फाइनल में ‛रन आउट’ होकर बन गया विलेन

0 32

न्यूजीलैंड की टीम लगातार दूसरी बार विश्व कप के फाइनल मैच को हार गई और उसका विश्व कप जीतने का सपना टूट गया। न्यूजीलैंड की टीम ने बहुत ही शानदार प्रदर्शन किया। लेकिन सुपरओवर में इंग्लैंड की टीम को बाउंड्री के आधार पर जीत हासिल हुई। अगर 2019 के विश्वकप को कोई खिलाड़ी याद ना रखना चाहे तो वह न्यूजीलैंड के ओपनर बल्लेबाज मार्टिन गुप्टिल होंगे। मार्टिन गुप्टिल सुपर ओवर के दौरान मैदान पर मौजूद थे। लेकिन वे अपनी टीम को विश्व कप नहीं जीता सके।

बता दें कि सेमीफाइनल मैच में मार्टिन गुप्टिल ने अंतिम समय में एमएस धोनी को रन आउट किया था और उनके रनआउट की बदौलत ही न्यूजीलैंड की टीम मैच जीतकर फाइनल में पहुंच गई। लेकिन फाइनल मैच में मार्टिन गुप्टिल रन आउट हो गए और न्यूजीलैंड की टीम की हार का कारण बन गए। अगर मार्टिन गुप्टिल रन आउट ना होते तो न्यूजीलैंड की टीम के हाथों में ट्रॉफी होती।

मार्टिन गुप्टिल ने 2015 के विश्व कप में लाजवाब प्रदर्शन दिखाया। लेकिन 2019 के विश्व कप में उनका बल्ला कुछ खास कमाल नहीं कर पाया। इतना ही नहीं मार्टिन गुप्टिल पूरे टूर्नामेंट में संघर्ष करते हुए नजर आए। मार्टिन गुप्टिल ने 10 मैचों में 186 रन बनाए।

पिछले विश्वकप टूर्नामेंट में न्यूजीलैंड की टीम फाइनल मैच में ऑस्ट्रेलिया से हार गई। गुप्टिल ने 2015 के विश्व कप में 9 मैचों में 547 रन बनाए थे। हालांकि मार्टिन गुप्टिल के पास 2019 के विश्व कप के फाइनल में सुपरओवर में हीरो बनने का मौका था। मार्टिन गुप्टिल अंतिम गेंद पर 2 रन नहीं ले सके। दूसरा रन लेते समय वे रनआउट हो गए और न्यूजीलैंड की टीम का विश्व कप जीतने का सपना टूट गया।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.