Loading...

भगवान शिव के इस मंदिर में हर 12 साल में होता है ये चमत्कार, जानकर आप हैरान रह जाएंगे

0 113

देवों के देव महादेव को अपने चमत्कारों के लिए ही जाना जाता है और इसीलिए सभी भक्तगण भगवान शिव की भक्ति कर उनसे आशीर्वाद की कामना भी रखते हैं. पूरे देश में भगवान भोले शंकर के कई ऐसे मंदिर हैं जोकि अपने चमत्कारों के लिए प्रसिद्ध है. लेकिन आज हम आपको बताने वाले हैं, भगवान शिव के ऐसे मंदिर के बारे में जिसका नाम बिजली महादेव मंदिर है. आपको यह जानकर हैरानी होगी कि इस मंदिर में हर 12 साल में एक बार आकाशीय बिजली गिरती है. मगर इस मंदिर में शिवलिंग टूटने के बाद फिर से एक ठोस आकार ले लेता है, तो चलिए अब आपको बताते हैं इस मंदिर के बारे में कुछ और बातें.

भगवान शिव का यह अलौकिक व अद्भुत मंदिर बिजली महादेव मंदिर के नाम से प्रख्यात है. यह मंदिर हिमालय की गोद में बसी देवभूमि हिमाचल में स्थापित है और आज हम आपको बताने वाले हैं एक ऐसे शिवलिंग के बारे में, जिस पर हर 12 साल में एक बार आकाशीय बिजली जरूर गिरती है. आकाश से गिरने वाली उस बिजली से शिवलिंग के टुकड़े-टुकड़े हो जाते हैं, लेकिन भगवान भोले शंकर की महिमा ऐसी अपरमपार है कि यह शिवलिंग टूटने के बाद एक बार फिर से अपने ठोस आकार में आ जाता है.

दरअसल यह मंदिर हिमाचल के कुल्लू घाटी में ब्यास नदी के किनारे स्थापित है. इस मंदिर को बिजली महादेव मंदिर के नाम से जाना जाता है. इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि आसमानी बिजली गिरने से मंदिर में मौजूद शिवलिंग चकनाचूर हो जाता है. वहीं बिजली गिरने से जब शिवलिंग टूट जाता है तो मंदिर के पुजारी खंडित शिवलिंग के टुकड़े इकट्ठा कर मक्खन के साथ उसे जोड़ देते हैं. ऐसा करने के कुछ समय बाद भी शिवलिंग दोबारा एकदम ठोस रूप में आ जाता है.

Loading...

मंदिर पर गिरने वाली उस आकाशीय बिजली से ना केवल मंदिर को बल्कि पूरे गांव को काफी नुकसान होता है. मगर फिर भी भगवान शिव पूरे गांव की रक्षा करते हैं. यह अद्भुत और चमत्कारी नजारा हर 12 साल में एक बार जरूर देखने को मिल जाता है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.