Loading...

जब दारा सिंह ने 200 किलो के पहलवान को उठाकर पटक दिया था, जाने फिर क्या हुआ

0 9

दारा सिंह भले ही आज इस दुनिया में ना हो। लेकिन उनसे जुड़ी हुई कुछ बातें ऐसी हैं, जिनकी छाप हमारे दिल पर है। उनको 500 कुश्ती मैचों में कोई भी नहीं हरा पाया। उन्होंने रामायण में भगवान हनुमान का ऐसा किरदार निभाया, जिसे लोग कभी नहीं भूल सकते। दारा सिंह के जीवन से जुड़ी हुई बहुत सी बातें हैं, जिनमें से कुछ दिलचस्प बातें आप जान सकते हैं।

दारा सिंह के छोटे भाई का नाम सरदारा सिंह था, जिन्हें लोग रंधावा के नाम से जानते थे। दारा सिंह और रंधावा सिंह दोनों ने मिलकर पहलवानी करना शुरू कर दिया और वे धीरे-धीरे गांव से लेकर शहरों में दंगल लड़ने लगे और उन्होंने अपने गांव का नाम रोशन किया।

500 में से एक भी मुकाबला नहीं हारे दारा सिंह

Loading...

दारा सिंह ने 1959 में पूर्व विश्व चैंपियन जार्ज गारडियान्का को हराकर कॉमनवेल्थ की विश्व चैंपियनशिप जीती थी। इसके बाद उन्होंने 1968 में अमेरिका के विश्व चैंपियन लाऊ थेज को हराकर फ्रीस्टाइल कुश्ती के विश्व चैम्पियनशिप जीती थी। उन्होंने 55 की उम्र में पहलवानी की और 500 मुकाबलों में उनको एक भी बार हार का सामना नहीं करना पड़ा।

दारा सिंह का किंग कॉन्ग के साथ मुकाबला हुआ था और यह मुकाबला बेहद दिलचस्प था, जिसे कोई नहीं भूल सकता। दारा सिंह ने ऑस्ट्रेलिया के 200 किलो वजनी किंग कॉन्ग को सिर से ऊपर उठाकर और घुमाकर पटक दिया था। दारा सिंह 130 किलो के थे। लेकिन उनके द्वारा खेला गया यह दांव देखकर लोग हैरान हो गए थे।

किंग कॉन्ग इसके बाद मैच रेफरी पर चिल्लाने लगे थे, क्योंकि उनके मुताबिक यह गलत था। इसके बाद दारा सिंह ने किंग कॉन्ग को उठाकर रिंग से बाहर फेंक दिया था। लोग किंग कॉन्ग और दारा सिंह का मैच देखने के लिए बहुत भारी मात्रा में आते थे। दारा सिंह ने 1983 में अपना आखिरी मुकाबला खेला था, जिसके बाद उन्होंने संन्यास ले लिया।

उन्होंने 1952 में फिल्म संगदिल में भी काम किया था। इसके अलावा उन्होंने कई फिल्में प्रोड्यूस भी की। दारा सिंह ने बॉलीवुड में कई बड़े सितारों के साथ काम किया। उन्होंने मेरा नाम जोकर, अजूबा, दिल्लगी, कल हो न हो और जब वी मेट जैसी फिल्मों में काम किया। दारा सिंह ने 1980 और 90 के दशक में सीरियल रामायण में भगवान हनुमान की भूमिका निभाई थी और खूब लोकप्रियता हासिल की।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.