Loading...

सेहत के लिए बेहद फायदेमंद है कान छिदवाना, जानिए कैसे

0 19

लड़कियों को कान छिदवाना सबसे ज्यादा पसंद होता है। वैसे कान छिदवाने की परंपरा भी काफी सालों पुरानी है। महिलाएं ही नहीं बल्कि आजकल तो आदमी भी कान छिदवाना पसंद करते हैं। लेकिन कई लोगों को ऐसा लगता है। कि ज्यादातर लोग सिर्फ फैशन के लिए कान छेदवातें हैं। लेकिन आपको बता दें कि आप इस बात को गलत सोचते हैं। क्योंकि इसके पीछे कई सारे वैज्ञानिक कारण भी है। और जिसमें इस बात को बताया गया है। कान छिदवाना आपकी सेहत के लिए कितना ज्यादा फायदेमंद है। तो आज हम आपको बताते हैं। कान छिदवाने के बेहतरीन पैरों के बारे में।

स्वस्थ मेन्स्ट्रुअल साइकल

हजरत की मानें तो कान के बाहरी का भाव यानी कि सेंटर का एक अहम पॉइंट होता है यहां एक ऐसा होता है जो शारीरिक संबंधी समस्याओं के लिए माना जाता है महिलाओं का मासिक धर्म भी सही और हेल्दी होता है।

Loading...

ब्रेन के विकास में सहायक

ऐसा कहा जाता है कि अगर छोटी सी उम्र में बच्चों के कान से तो आज यह जाए तो उनके ब्रेन का विकास सही तरीके से होता हैं। ईयर लोब्स यानी कान के बाहरी हिस्से में मध्याह्न पॉइंट होता है। जोकि आपके ब्रेन के लेफ्ट हेमिस्फियर को राइट हेमिस्फियर से जोड़ने का काम करता है। इतना ही नहीं बता दें कान के इस हिस्से को दबाने से ये हिस्से ऐक्टिवेट हो जाते हैं।

आखों की रौशनी हो बेहतर

आपको बता दें कि कान के सेंटर पॉइंट पर ही आंखों की रोशनी का सेंटर निर्भर करता है। इसलिए इन पॉइंट्स को छिदवाने से आखों की रौशनी अच्छा हो जाती हैं।

सुनने की क्षमता को करे अच्छा

आयुर्वेद की मानें तो कान में जहां छेद करवाया जाता है। वहां सबसे महत्वपूर्ण पॉइंट होता हैं। जोकि हमारे सुनने की क्षमता को बेहतर बनाता हैं। ऐक्युप्रेशर एक्सपर्ट्स की मानें तो कान में झनझनाहट जैसी समस्याओं से छुटकारा दिलाने में अहम रोल निभाता है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.