Loading...

क्या इस खिलाड़ी को टीम में जगह ना देना टीम इंडिया को पड़ा भारी

0 179

भारतीय टीम बुधवार को मैनचेस्टर में न्यूजीलैंड के विरुद्ध खेले गए मैच में 18 रन से हार गई और विश्व कप से बाहर हो गई। बता दे कि सेमीफाइनल मैच मंगलवार को शुरू हुआ था। लेकिन बारिश की वजह से यह मैच बुधवार को पूरा हुआ। न्यूजीलैंड ने भारत को जीत के लिए 240 रन का लक्ष्य दिया था। लेकिन भारतीय टीम के 3.1 ओवर में 5 रन पर तीन विकेट गिर गए। भारतीय टीम का चौथा विकेट 24 रन पर गिरा। लेकिन इस मैच में भारतीय टीम के ऑलराउंडर खिलाड़ी रविंद्र जडेजा ने कमाल का प्रदर्शन दिखाया।

जडेजा और महेंद्र सिंह धोनी के बीच बेहतरीन साझेदारी हुई। इन दोनों की साझेदारी की बदौलत भारतीय टीम का स्कोर 200 रन के पार पहुंच गया। इन दोनों की बदौलत भारतीय टीम केवल 18 रन से मैच हारी। नहीं तो एक समय भारतीय टीम का स्कोर 150 होते हुए भी नहीं दिख रहा था। न्यूजीलैंड के विरुद्ध भारतीय टीम का टॉप आर्डर बुरी तरह से फ्लॉप हो गया। भारतीय टीम के टॉप-3 बल्लेबाज केवल एक-एक ही रन बना सके। ऐसा विश्व कप में पहली बार हुआ है।

बता दें कि इससे पहले भारतीय टीम ने जब न्यूजीलैंड दौरा किया था तो उस समय भी भारतीय टीम का टॉप आर्डर फ्लॉप साबित हुआ था। उस समय भी ट्रेंट बोल्ट और मैट हेनरी ने लाजवाब प्रदर्शन किया। पर भारतीय टीम और कीवी गेंदबाजों के बीच अंबाती रायडू दीवार बनकर खड़े हो गए थे। रायडू ने नंबर चार पर बल्लेबाजी करते हुए 90 रन की शानदार पारी खेली थी। रायडू के अच्छे प्रदर्शन की बदौलत ही उस मैच में भारतीय टीम ने 49.5 ओवर में 252 रन का स्कोर खड़ा किया। लेकिन चयनकर्ताओं ने विश्व कप के लिए चुनी गई 15 सदस्यीय टीम में अंबाती रायडू को जगह नहीं दी गई।

इसके बाद जब शिखर धवन चोटिल हो गए तो ऋषभ पंत को मौका दिया गया। लेकिन विजय शंकर के बाहर होने पर भी अंबाती रायडू को नहीं, बल्कि मयंक अग्रवाल को टीम में शामिल किया गया, जिस वजह से अंबाती रायडू ने क्रिकेट से संन्यास ले लिया। भारतीय टीम के लिए नंबर 4 हमेशा से ही मुश्किल चुनौती रही है। टॉप ऑर्डर के बल्लेबाज जब अच्छा प्रदर्शन करते हैं तो यह कमी छिप जाती है। लेकिन जब भारतीय टीम का टॉप ऑर्डर फ्लॉप हो गया तो टीम इंडिया की मध्यक्रम की कमजोरी एक बार फिर से उजागर हो गई। मध्यक्रम की कमजोरी की वजह से ही भारतीय टीम का तीसरी बार विश्व कप जीतने का सपना टूट गया।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.