Loading...

सरकार ने किया ऐलान, जनधन खाता रखने वाली महिलाओं को मुफ्त में मिलेंगी ये सुविधा

0 20

प्रधानमंत्री जन-धन योजना के तहत बैंकों में अब तक 35.99 करोड़ खाते खोले गए हैं. दरअसल ये बात वित्त मंत्रालय की ओर से जारी आंकड़ों में बताया गया है. मालूम हो कि इनमें से 29.54 करोड़ खाते ऑपरेशनल हैं. वित्त राज्य मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने एक सवाल के लिखित जवाब में राज्यसभा को यह जानकारी दी.

वहीं वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने बजट में ऐलान किया है कि जनधन खाता रखने वाली महिलाओं को ओवर ड्रॉफ्ट की सुविधा दी जाएगी. हालांकि ये सुविधा सिर्फ उन्हीं महिलाओं को मिलेगी, जो किसी वैरीफाइड महिला सेल्फ हेल्प ग्रुप (एसएचजी) की सदस्य होंगी.

मालूम हो कि इस सविधा से महिलाओं को छोटे कारोबार करने में बहुत मदद मिलेगी. वहीं, हाल में जन-धन योजना के तहत खाताधारकों को 10 हजार रुपये के ओवरड्राफ्ट की सुविधा मिल रही है. इससे पहले यह सुविधा 5,000 रुपये थी.

दरअसल वित्त राज्यमंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने राज्यसभा में बताया है कि जन-धन योजना के तहत निजी क्षेत्र के बैंकों को भी खाते खोलने की अनुमति है और उनसे मिली जानकारी के अनुसार निजी क्षेत्र के प्रमुख बैंकों द्वारा 1.23 करोड़ खाते खोले गए.

Loading...

महिलाओं को मिलेंगी खास सुविधा, बजट में हुआ ये ऐलान

मालूम हो कि सरकारी आंकड़ों के अनुसार जनधन खातों में कुल जमा राशि में लगातार बढ़ोतरी हो रही है और यह 3 अप्रैल को 97,665.66 करोड़ रुपये पहुंच गई.

बता दें कि कुल खातों में 50% से अधिक खाते महिलाओं के नाम पर हैं जबकि करीब 59% खाते ग्रामीण और अर्द्ध-शहरी क्षेत्र में खोले गए हैं.

दरअसल वित्त मंत्री ने बजट में कहा है कि इस सरकार की नीतियां सिर्फ महिलाओं पर केंद्रित नहीं हैं, बल्कि इससे आगे जाकर महिलाओं के नेतृत्व की बात करती हैं. मालूम हो कि इस क्रम में वैरीफाइड महिला सेल्फ हेल्प ग्रुप की सदस्यों को जनधन बैंक खातों के जरिए 5000 रुपये की ओवर ड्राफ्ट सुविधा दी जाएगी.

जनधन खाताधारकों को मुफ्त में मिलती है ओवरड्राफ्ट सुविधा

दरअसल उन्होंने कहा कि सरकार महिलाओं के लिए ‘नारी तू नारायणी योजना’ लाएगी. बता दें कि इसके तहत समिति बनाई जाएगी जो देश के विकास और ग्रामीण अर्थव्यवस्था में महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने पर सुझाव देगी. उन्होंने कहा कि उज्ज्वला योजना की वजह से देश की महिलाओं को धुएं से छुटकारा मिला है.

क्या है ओवरड्राफ्ट सुविधा

मालूम हो कि ओवरड्राफ्ट की सुविधा का मतलब दरअसल यह है कि अगर किसी जन-धन खाताधारक के बैंक खाते का रिकार्ड अच्छा है तो वह जरूरत पड़ने पर अपने खाते में पैसे नहीं होने पर भी ओवरड्राफ्ट की लिमिट के तहत बैंक से रकम ले सकता है.

दरअसल यह वास्तव में एक छोटी अवधि के एक लोन की तरह है जो बैंक खाते के संचालन की वजह से बैंक द्वारा दी जाने वाली सुविधा है. बता दें कि जन धन खाते में ओवरड्राफ्ट की सुविधा होने पर गरीब परिवारों को साहूकार से ब्याज पर रकम लेने की जरूरत नहीं पड़ती है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.