Loading...

इस सरकारी बीमा योजना का जल्दी उठाएं फायदा, 31 जुलाई है आखिरी तारीख

0 10

मानसून का मौसम चल रहा है. ऐसे में देश में कुछ इलाकों में जहां बहुत अधिक बारिश हो रही है वहीं कुछ इलाकों में बारिश अब तक न के बराबर हुइ है. तो ऐसे में केंद्र सरकार की ओर से शुरू की गई प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना किसानों के लिए काफी महत्वपूर्ण हो जाती है.

जी हां, दरअसल इस योजना का लाभ उठा कर देश के किसान किसी कारण से फसल खराब होने पर मुआवजे का दावा कर सकते हैं. चलिए जानते हैं इस योजना के बारे में सबकुछ..

देश भर में बीमा कंपनियों का किया गया है चयन

बता दें कि प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के अंतर्गत देश भर में बीमा कंपनियों का चयन किया गया है जो किसानों को उनकी फसल का बीमा उपलब्ध कराती हैं. मालूम हो कि बीमा कंपनी राज्य सरकार के फसल उत्पादन के आंकड़े और मौसम के आंकड़ों के जरिए बीमा दावों का आंकलन करती है. दरअसल बीमा कंपनी आंकलन कर के दावे की राशि किसानों के बैंक खातों में सीधे भेज देती है.

Loading...

21 दिनों में देना होता है दावे का भुगतान

मालूम हो कि सरकार की ओर से व्यवस्था की गई है कि फसल बीमा योजना के तहत आंकड़े मिलने के 21 दिनों के अंदर किसानों के दावे का बीमा कंपनियों को भुगतान करना होता है. दरअसल यदि दावे का भुगतान करने में बीमा कंपनी 21 दिन से अधिक देरी करती है उसे 12% की वार्षिक दर से दंड का भुगतान करना पड़ता है.

बीमा कराने की अंतिम तारीख है 31 जुलाई

मालूम हो कि जो भी बीमा किसान अपनी फसल के लिए प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना के तहत अपनी फसल का बीमा लेना चाहते हैं उन्हें जल्द से जल्द अपने नजदीकी बैंक, जनसेवा केंद्र, बीमा एजेंट या सीधे बीमा कंपनी से संपर्क करना चाहिए. दरअसल खरीफ की फसल के लिए बीमा काराने की अंतिम तिथि ज्यादातर राज्यों में 31 जुलाई है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.