Loading...

वर्ल्ड कप: सेमीफाइनल में मोहम्मद शमी को जगह न मिलने से टीम प्रबंधन से नाराज हुए शमी के कोच बद्दरूद्दीन

0 7

विश्व कप 2015 का सेमीफाइनल मुकाबला भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच खेला गया था जिसमें मोहम्मद शमी भारत के ओपनिंग गेंदबाज थे। लेकिन उस मुकाबले में मोहम्मद शमी एक भी विकेट हासिल नहीं कर सके। हालांकि 4 साल बाद विश्व कप 2019 में मोहम्मद शमी ने लीग मैचों में बहुत ही अच्छा प्रदर्शन किया और वे बेहतरीन फॉर्म में हैं। लेकिन फिर भी शमी को सेमीफाइनल मुकाबले में जगह नहीं दी गई। क्रिकेट प्रेमी और विशेषज्ञ इस वजह से काफी कन्फ्यूज है तो वहीं शमी के कोच भी टीम प्रबंधन से बहुत ज्यादा खफा है।

16 जून को भारत और पाकिस्तान के बीच मैच खेला गया जिसमें मोहम्मद शमी को भुवनेश्वर कुमार की जगह शामिल किया गया। अफगानिस्तान के विरुद्ध खेले गए मुकाबले में मोहम्मद शमी ने हैट्रिक ली थी। इस मुकाबले में उन्होंने चार विकेट चटकाए। उन्होंने दिखाया कि वह आने वाले मैचों में भी दमदार प्रदर्शन करेंगे।

लेकिन इंग्लैंड और बांग्लादेश के विरुद्ध खेले गए मुकाबले में वह सिर्फ एक-एक विकेट ही हासिल कर पाए। मोहम्मद शमी के कोच बद्दरूद्दीन सिद्दीकी का कहना है कि जिस खिलाड़ी ने 4 मैचों में 14 विकेट हासिल किए हो उसे सेमीफाइनल में क्यों नहीं खिलाया गया।

मुझे इस बात पर भरोसा नहीं हो रहा है कि शमी को सेमीफाइनल मुकाबले में जगह नहीं दी गई है। मुझे यह लगा था कि श्रीलंका के विरुद्ध मोहम्मद शमी को इसलिए जगह नहीं दी गई है क्योंकि उनको फाइनल मुकाबले से पहले आराम मिल सके। लेकिन मेरी सोच गलत थी।टीम मैनेजमेंट ने मोहम्मद शमी को सेमीफाइनल से ही बाहर कर दिया।

Loading...

सिद्दीकी ने बताया कि अगर आप सोच रहे हैं कि भुवनेश्वर अच्छी बल्लेबाजी कर सकते हैं तो आपको इस पर निर्भर नहीं रहना चाहिए। यदि शुरुआत के टॉप 4 बल्लेबाज अच्छा नहीं करते हैं तो गेंदबाज क्या अच्छा प्रदर्शन कर पाएंगे। मोहम्मद शमी सिर्फ गेंदबाजी से जलवा बिखेर सकता है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.