Loading...

अलर्ट: नुकसानदायक साबित हो सकता है थर्माकोल के कप में चाय पीना, जानिए साइड इफैक्ट्स

0 16

अक्सर आप सभी ने लोगों को कैफे में या फिर चाय की दुकान में थर्माकोल के कप में चाय और कॉफी पीते हुए देखा होगा। हालांकि कई लोग कांच के गिलास में भी चाय बेचते हैं। लेकिन इसके पीछे वो हाइजीन का हवाला देते हैं। लेकिन आप सभी ने आजकल एक बात को भी नोटिस किया होगा। कि घरों में भी पार्टियां फंक्शन के दौरान ज्यादातर थर्माकोल की प्लेट या कटोरी इस्तेमाल किया जाता हैं। ताकि वो बर्तन धोने से बच सकें।

लेकिन क्या आप इस बात को जानते हैं कि थर्माकोल के कितने सारे साइड इफेक्ट होते हैं। इसका ज्यादा इस्तेमाल कितना खतनाक साबित हो सकता हैं। इतना ही नहीं थर्माकोल का ज्यादा इस्तेमाल कैंसर जैसी बड़ी बीमारियों को भी दावत दे सकता है। आइए आपको बताते हैं इससे जुड़ी होने वाली समस्याओं के बारे में।

कैंसर को दे न्यौता

अगर कई सारे विशेषज्ञों की मानें तो थर्माकोल पॉलीस्टीरीन से बने होते हैं। जोकि हमारी सेहत के लिए काफी ज्यादा नुकसानदायक होते हैं। इसलिए ऐसे में जरूरी है कि आप जितना हो सके थर्माकोल का इस्तेमाल कम से कम करें। जब भी आप थर्माकोल के कप में गर्म चाय डालकर पीते हैं। तो इसमें कुछ ऐसे तत्व मौजूद होते हैं। जो कि आपकी चाय में भूलकर आपके पेट में चले जाते हैं। और जाकर कैंसर जैसी बीमारियों को न्यौता देते हैं। इतना ही नहीं इन कपड़ों का ज्यादा इस्तेमाल करने से शरीर में थकान फोकस की कमी हार्मोन्स में बदलाव के अलावा कई तरह की समस्याएं उत्पन्न होती है।

Loading...

एलर्जी को दे न्यौता

अगर आप भी नियमित रूप से यानी कि हर रोज प्लास्टिक के कप में चाय पीते हैं। या फिर गर्म चीजें खाते पीते हैं। तो आपको से एलर्जी हो सकती है। जी हां थर्माकोल का इस्तेमाल आपके शरीर में एलर्जी पैदा कर सकता है। इतना ही नहीं इसका ज्यादा इस्तेमाल आपको डॉक्टर तक भी पंहुचा सकता हैं।

पेट का खराब होना

डॉक्टर पेट के खराब होने के पीछे थर्माकोल या फिर डिस्पोजल का नियमित रूप से इस्तेमाल होना भी मानते हैं। डॉक्टर्स कहते हैं डॉक्टर्स कहते हैं कि यह पूरी तरीके से हाइजीनिक नहीं होता है। इसमें गर्म चीजें डालकर खाने से इसके अंदर जमे हुए बैक्टीरिया कीटाणु उसके अंदर घुस जाते हैं। जो कि हमारे शरीर के अंदर पहुंचकर हम को नुकसान पहुंचाते हैं।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.