Loading...

शाम के समय रोने से कम होता है मोटापा, एक स्टडी में हुआ खुलासा

0 27

ऐसा अक्सर देखा गया है कि मोटापा कम करने के लिए तरह-तरह के नुस्खें अपनाते हैं, लेकिन कोई फायदा नहीं होता और वजन में जरा भी कमी नहीं आती. दरअसल इसके ट्रीटमेंट पर लोग पानी की तरह पैसा बहा देते हैं, जबकि इसे कम करने का एक बेहद ही आसान तरीका है.

जी हां, दरअसल आप इसे रो कर भी कम किया जा सकता है. जी हां, वैसे सुनने में थोड़ा अजीब लग रहा होगा, लेकिन एक रिसर्च में यह बात सामने आई है कि रोने से इंसान के वजन में गिरावट आती है.

आपको बता दें कि एशियन वन में प्रकाशित एक रिपोर्ट के मुताबिक रोने से हमारे शरीर में कॉर्टिसोन नामक हार्मोन रिलीज होता है. दरअसल शरीर में इस हार्मोन का स्तर बढ़ने से वजन में गिरावट आती है. वहीं दूसरी ओर स्ट्रेस लेवल बढ़ने पर जब हम रोते हैं तो आंसूओं के जरिए एक विषैला पदार्थ शरीर से बाहर आता है जो वजन बढ़ने के लिए काफी हद तक जिम्मेदार होता है.

मालूम हो कि इस स्टडी में यह भी खुलासा हुआ है कि जिन लोगों के रोने पर आंसू आसानी से नहीं निकलते, उनके लिए वजन घटाना काफी मुश्किल चुनौती होता है. हालांकि एक और दिलचस्प बात ये भी बताई गई है कि रोने की नौटंकी करने हैं या ढोंग रचने से इसका वजन पर कोई असर नहीं होता.

Loading...

दरअसल एक शोध में बताया गया है कि इंसान को सिर्फ 3 तरह के आंसू आते हैं, बेसल, रिफ्लेक्स और साइचिक. बेसल आंसू अक्सर खुशी की वजह से निकलते हैं, जबकि रिफ्लेक्स आंसूओं की वजह सिगरेट का धुआं या प्रदूषण हो सकता है. वहीं साइचिक आंसूओं की वजह इमोशन होते हैं और इन्हीं के निकलने पर वजन कम होता है.

आपको बता दें कि 7 से 10 बजे रात में रोने से वजन ज्यादा तेजी से गिरता है. दरअसल यह ऐसा वक्त होता है जब इंसान के नेगेटिव इमोशन उस पर सबसे ज्यादा हावी होते हैं. मालूम हो कि यह बात पहले भी सामने आ चुकी है कि रोने से इंसान के शरीर में मौजूद कैलोरी ज्यादा तेजी से बर्न होती है और इसीलिए वजन कम होता है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.