Loading...

अगर फोन बार-बार हो रहा है हैंग या स्लो, तो बस Delete कर दीजिए ये 5 फोल्डर, दूर हो जाएगी समस्या

0 2,444

आजकल के दौर में सभी के पास स्मार्टफोन है और सभी के संग एक दिक्कत काफी कॉमन है, दरअसल वो है स्मार्टफोन के स्लो या हैंग होने की प्रॉब्लम। हालांकि फोन से जुड़ी एक गलती तो ऐसी है जिसे स्मार्टफोन चलाने वाला हर यूजर करता है और इसी गलती के चलते फोन धीरे-धीरे हैंग होने लगता है। ऐसा इसलिए भी होता है क्योंकि यूजर को इस बारे में पता ही नहीं होता।

दरअसल स्मार्टफोन में ऐसे 5 फोल्डर होते हैं जिनमें कई MB डाटा स्टोर होता है। ये डाटा आपके किसी काम का भी नहीं होता है और ये आपका फोन स्लो करता है। ऐसे में इन फोल्डर करो डिलीट करके फोन की स्पीड को फास्ट किया जा सकता है। आइए जानते हैं कि कौन से हैं वो फोल्डर।

वॉट्सऐप SENT फोल्डर

स्मार्टफोन है तो आप वॉट्सऐप तो चलाते ही होंगे। दरअसल आपके वॉट्सऐप पर फोटो और वीडियो के साथ GIF, PDF, कॉन्टैक्ट, ऑडियो या अन्य फाइल भी आती हैं। यूजर इन्हें देख तो लेता है लेकिन डिलीट नहीं करता। इतना ही नहीं इन फाइल को जब दूसरी जगह फॉर्वर्ड करते हैं तब ये फाइल जितनी बार फॉर्वर्ड होती है उतना ही स्पेस लेती जाती हैं। हालांकि, आपके द्वारा सेंड की गई फाइल दिखाई नहीं देती।

Loading...

कैसे डिलीट करें इसे

बता दें कि इस फोल्डर को आपको फोन के स्टोरेज में जाकर देखना होगा। इसके लिए स्टोरेज में जाकर WhatsApp => Media => WhatsApp Video => Sent पर जाना होगा।

आपको बता दें कि सेंड आइटम वीडियो, वॉलपेपर, एनिमेशन, ऑडियो, डॉक्युमेंट्स, इमेज के अंदर अलग-अलग 5 फोल्डर में होता है। ये डाटा फोन की मेमोरी को कई गुना तेजी से भरते हैं। ऐसे में सभी SENT फोल्डर का डाटा तुरंत डिलीट करना चाहिए।

फोन स्लो होने के अन्य कारण

1. अगर फोन की रैम कम है और मेमोरी फुल तो जाहिर है कि फोन स्लो और मल्टीटास्किंग के दौरान हैंग होने लगता है।

2. ऐसा अक्सर देखा गया है कि स्मार्टफोन में ऐप्स ओपन करने के बाद अक्सर यूजर उसे बैक कर देते हैं। ये मिनीमाइज होकर बैकग्राउंड में ओपन रहते हैं, जिससे फोन स्लो हो जाता है।

3. फोन की इंटरनल मेमोरी ऐप्स के लिए अलग होती है। ऐसे में जब भी ऐप को अपडेट करते हैं तब वो ज्यादा स्पेस लेते हैं, जिससे फोन स्लो या हैंग होने लगता है।

4. ये कम लोगो को पता होगा कि जब हम किसी ऐप का यूज करते हैं तो उससे जुड़ा टेम्परेरी डाटा फोन में स्टोर होता जाता है। ये डाटा फोन की रैम कंज्यूम करता है। जिससे फोन स्लो होता है।

5. APK फाइल वाले ऐप्स फोन के लिए डेंजर हो सकते हैं। इनसे फोन स्लो और हैंग होने का साथ डाटा लीक होने का भी खतरा होता है।

6. फोन में एंटीवायरस या क्लीनर ऐप इन्स्टॉल करने से भी उनकी स्पीड स्लो हो जाती है। ये ऐप्स लगातार फोन को स्कैन करते हैं, जिससे फोन स्लो होने लगता है।

7. यूजर फोन में सॉन्ग या मूवी रखते हैं। इनकी वजह से मेमोरी फुल हो जाती है और ये आपके फोन को स्लो कर देते हैं।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.