Loading...

4 लाख में शुरू कर सकते हैं ये बिजनेस, हर महीने होगी 50 हजार तक की कमाई

0 25

अगर आप भी ढूंढ रहे हैं एक ऐसा बिज़नेस जहां पैसा लगाकर आप जल्दी मुनाफा मिल जाए तो कैसा हो. जी हां, दरअसल आज हम आपको कुछ ऐसा ही बताने जा रहे हैं. दरअसल आजकल मार्केट में कई छोटे ब्रांड्स भी मिल्क प्रोडक्ट बनाकर अच्छी कमाई कर रहे हैं.

बता दें कि बटर, पैकेट दूध, पैकेट बंद दही, पैकेज्ड पनीर, घी और फ्लेवर्ड मिल्क बनाकर बेच सकते हैं. मालूम हो कि इस बिजनेस में कई बड़े ब्रांड हैं, जो करोड़ों का कारोबार कर रहे हैं. यदि आप भी ये काम शुरू करना चाहते हैं तो सरकार भी आपकी मदद करेगी.

मुद्रा स्कीम का मिल सकता है फायदा

आपको बता दें कि मुद्रा स्कीम के तहत आपको मैन्युफैक्चरिंग यूनिट खोलने का मौका मिल सकता है. जी हां, दरअसल इस सरकारी स्कीम की मदद से आप सिर्फ 4 लाख रुपए निवेश कर यूनिट खोल सकते हैं.

Loading...

दरअसल दिन प्रति दिन इन प्रोडक्ट्स की डिमांड बढ़ रही है. मालूम हो कि सही मार्केटिंग स्ट्रेटेजी का यूज कर आप भी एक नया ब्रांड बना सकते हैं. दरअसल इस बिज़नेस को शुरू कर आप हर महीने 50 हजार रुपए मुनाफा कमा सकते हैं.

जरूरी है इतना स्पेस

इसके लिए 1000 वर्गफुट की जगह होनी चाहिए. जी हां, दरअसल पैकेज्ड फूड बनाने के लिए पहले हेल्थ अथॉरिटी से लाइसेंस लेना जरूरी होगा. बता दें कि 500 लीटर प्रतिदिन दूध की जरूरत होगी. मालूम हो कि 500 लीटर कच्चे दूध की प्रॉसेसिंग की जा सकेगी, जिससे पैकेट वाला दूध, घी, दही, बटर और फ्लेवर्ड मिल्क तैयार किया जाएगा.

मशीन लगाने पर आएगा 5.5 लाख रुपए का खर्च

आपको बता दें कि इसमें क्रीम सेपरेटर, पैकिंग मशीन, बॉटल कैपिंग मशीन, फ्रीज, कूलर, वेट करने वाली मशीन, ट्रे के अलावा कुछ और छोटी मशीनें होंगी. रॉ मैटेरियल पर 4 लाख सालाना का खर्च (दूध, चीनी, फ्लेवर और सॉल्ट शामिल हैं.)
यानी कि कुल खर्च: 16 लाख रुपए

केवल 4 लाख खर्च कर शुरू कर सकेंगे बिज़नेस

आपको बता दें कि 16 लाख रुपए खर्च में से आपको बिजनेस शुरू करने के लिए सिर्फ 4 लाख रुपए खर्च करना होगा. दरअसल बाकी खर्च सरकार मुद्रा योजना के तहत टर्म कैपिटल लोन और वर्किंग कैपिटल लोन के रूप में मिलेगा. मालूम हो कि यूनिट शुरू होने पर होने वाली इनकम में से आप इन खर्चों का ब्याज भर सकते हैं.

हर महीने होगी 50 हजार रु की इनकम

यहां आपको बता दें कि प्रति दिन 500 लीटर या सालाना 1.5 लाख लीटर दूध की प्रॉसेसिंग से जितना प्रोडक्ट तैयार होगा. बता दें कि उससे सालाना टर्न ओवर 82 लाख रुपए तक हो सकता है. मालूम हो कि इसकी कुल प्रोडक्शन काॅस्ट 74 लाख रुपए होगी.

दरअसल इस हिसाब से सालाना 8 लाख रुपए आय होगी. मालूम हो कि इसमें से टैक्स आदि का खर्च (यानी कि 25%) काटने के बाद नेट प्रॉफिट 6 लाख रुपए सालाना होगा. बता दें कि इस हिसाब से हर महीने 50 हजार रुपए इनकम हो सकती है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.