Loading...

बच्चों को मोबाइल की लत छुड़वाने के लिए यहां पर खाली पड़ी जमीन पर बैडमिंटन कोर्ट, चैस जैसे खेल किए गए शुरू

0 16

बच्चे मोबाइल से दूर रहे इसके लिए मां बाप काफी प्रयास करते हैं लेकिन कुछ काम नहीं आता हालांकि उनको ये खबर पढ़नी चाहिए। जी हां, दरअसल बिलाड़ा के वार्ड नंबर 6 स्थित कंवरों-भंवरों के बास के लोगों ने अपने बच्चों को मोबाइल से दूर रखने और मनोरंजन के लिए अनूठा प्रयास किया है। बता दें कि यहां खाली पड़ी जमीन को एक चौक में तब्दील कर छोटे स्टेडियम जैसी सुविधाएं विकसित कर दीं गई हैं।

बता दें कि इसमें नगरपालिका प्रशासन ने भी मदद की है। दरअसल रोजाना रात को दुधिया रोशनी में महिलाएं साइक्लिंग करती हैं। देसी परिधान में बैडमिंटन खेलती हैं। उन्हें देखने बुजुर्ग महिलाएं भी चौक पहुंच जाती हैं।

मालूम हो कि जब लोग घरों में टीवी और मोबाइल के आगे बैठे रहते हैं, उस वक्त इस मोहल्ले की महिलाएं, पुरुष और बच्चे गेम खेलते नजर आते हैं। बता दें कि साफ सफाई की जिम्मेदारी महिलाओं ने ले रखी है।

Loading...

इस तरह बना आदर्श चौक

दरअसल समाजसेवी जितेंद्र सिंह राठौड़ ने बताया कि 10700 वर्ग फीट से ज्यादा खाली जगह थी। बता दें कि पालिका ने यहां सीसी करवाई। दरअसल हाईमास्क लाइट और बेंच भी लगाईंं, जिसमें 880 वर्ग फीट के बैडमिंटन के 2 ग्राउंड बनाए। मालूम हो कि चारों तरफ 400 फीट का ट्रैक बनाया गया है। यहां 400 साल पुराने नीम के पेड़ को भी सुरक्षित रखा गया है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.