Loading...

आम को लेकर हुए झगड़े में 5 साल के बच्चे ने पेंचकस से फोड़ दी दोस्त की आंख, फिर फेंक दिया तलाक में

0 15

दो भाइयों ने 6 साल के लड़के साहिल दास की पेंचकस से आंखें फोड़ दी। बता दे कि उन दोनों भाइयों की उम्र 5 से 8 साल है। साहिल दास दोनों भाइयों का दोस्त था। जब साहिल बेहोश हो गया तो दोनों भाइयों ने उसे तालाब में फेंक दिया, जिससे उसकी मौत हो गई। यह घटना जांजगीर चांपा जिले के डभरा थानांतर्गत बगरैल गांव की है।

यह तीनों खेलने के लिए जाने की बात कहकर घर से आए थे। सभी बच्चे घर वापस आ गए। लेकिन साहिल नहीं लौटा। जब वह काफी देर तक घर नहीं आया तो उसके दादा ने दोस्तों को बुलाया। बच्चों ने कहा कि चोर साहिल को पकड़ कर ले गया।

परिजनों ने साहिल की तलाश शुरू कर दी। उसका शव तालाब में मिला। वह शव को घर पर ले आए और पुलिस को मामले की जानकारी दी। एसडीओपी अमित पटेल ने बताया कि रविवार की शाम करीब 4:00 बजे साहिल को उसके दोस्त घर पर लेने आए थे। उसके बाद उसकी हत्या हुई।

एसपी पारुल ने कहा कि बच्चों ने कुछ देर खेलने के बाद आम खाने का प्लान बनाया। एक बच्चा आम के पेड़ पर चढ़ गया और फिर पेड़ से आम तोड़कर नीचे फेंकने लगा। साहिल ने वह आम खा लिए जिससे वह लड़का नाराज हो गया।

Loading...

इस वजह से विवाद शुरू हो गया और बात हाथापाई तक पहुंच गई। साहिल की जेब में पेंचकस रखा हुआ था जिसे दूसरे बच्चे ने छीन लिया। उस बच्चे ने साहिल की आंख पर पेंचकस से बार किया और उसकी दोनों आंखों को फोड़ दिया। उसके शरीर से खून बहने लगा। हमला करने वाले लड़के का भाई भी उसके साथ था, जिसकी उम्र 8 साल है। दोनों ने मिलकर उसको तालाब में फेंक दिया। वहां पर मौजूद तीन बच्चे कुछ भी नहीं समझ पाए और उन्होंने कुछ नहीं बताया।

एम्स के एचओडी और साइकेट्री विभाग के डॉ. लोकेश सिंह ने कहा कि कार्टून और एनिमेशन देखकर बच्चों में अब इस तरह की उग्रता देखी जा रही है। उनको सही या गलत की पहचान नहीं होती। वह हीरो को अपना आदर्श मानकर ही सब कुछ करते हैं। पेरेंट्स को इस बात का ध्यान रखना होगा कि बच्चे आजकल क्या देख रहे हैं। उन्हें बताना होगा कि क्या सही और क्या गलत है । बच्चों को हिंसक कार्यक्रम देखने से रोकना चाहिए।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.