Loading...

80 हजार रुपए में शुरू करें ये बिजनेस, होगी 4 से 7 लाख रुपए तक की कमाई, मोदी सरकार करेगी मदद

0 11

ये तो हम सब जानते हैं कि बड़े शहरों में बिजनेस शुरू करने के लिए काफी पैसे की जरूरत होती है, लेकिन टियर-टू, टियर थ्री सिटीज यानी छोटे शहरों में कम पैसों में बिजनेस शुरू कर सकते हैं, जिससे आपकी अच्‍छी खासी आमदनी हो सकती है।

जी हां, दरअसल ऐसे बिजनेस को सरकार भी सपोर्ट कर रही है, जिसमें सरकार प्रधानमंत्री इम्‍प्‍लॉयमेंट जनरेशन प्रोग्राम या खादी विलेज इंडस्‍ट्रीज प्रोग्राम के तहत लोन और सब्सिडी दी जाती है।

कौन सा होगा ये बिजनेस

दरअसल आज हम आपको ऐसे ही एक बिजनेस के बारे में बताएंगे। बता दें कि इस बिजनेस को शुरू करने के लिए आपके पास केवल 80 हजार रुपए चाहिए, बाकी लगभग 90 % तक लोन आपको मिल जाएगा और 15 से 25 % तक सब्सिडी भी मिल जाएगी।

Loading...

दरअसल आप गेहूं आटा मिल यूनिट लगाकर मैदा, आटा, सूजी जैसे प्रोडक्‍ट्स को पैक करके बाजार में सप्‍लाई कर सकते हैं। मालूम हो कि इन प्रोडेक्‍ट्स की होटल, बैकरी में भी डिमांड रहती है।

क्‍या होगी प्रोजेक्‍ट कॉस्‍ट

मालूम हो कि खादी एवं विलेज इंडस्‍ट्रीज कमीशन के मुताबिक अगर आप गेहूं आटा मिल लगाना चाहते हैं और उसके लिए लोन लेना है तो आपको प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट तैयार करनी होगी। जी हां, दरअसल इस कमीशन द्वारा एक प्रोजेक्‍ट प्रोफाइल तैयार किया गया है, जिसके मुताबिक लगभग 8 लाख 85 हजार रुपए प्रोजेक्‍ट कॉस्‍ट से आप फ्लोर मिल शुरू कर सकते हैं।

बता दें कि इसके लिए लगभग 750 वर्ग फुट बिल्डिंग शेड पर लगभग 1.5 लाख और इक्‍वीपमेंट पर लगभग 4.5 लाख रुपए का खर्च दिखाना होगा। जबकि वर्किंग कैपिटल पर लगभग 2 लाख 85 हजार रुपए खर्च होगा। यानी कि आपके प्रोजेक्‍ट की कॉस्‍ट 8 लाख 85 हजार रुपए होगी और जिसमें से 90 % आपको लोन मिल सकता है।

इतना होगा साल भर का खर्च

आपको बता दें कि इस प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट में बताया गया है कि 8.85 लाख रुपए के प्रोजेक्‍ट कॉस्‍ट शुरू किए जा रहे इस बिजनेस पर साल भर में लगभग 5417000 रुपए का खर्च आएगा, जिसमें रॉ मैटिरियल पर 48 लाख रुपए, लेबल एवं पैकिंग मैटिरियल पर 1.5 लाख, सैलरी पर 3.25 लाख, एडमिनिस्‍ट्रेटिव खर्च 1.25 लाख, ओवरहेड 1.8 लाख और अन्‍य खर्च शामिल होंगे।

होगी इतनी इनकम

आपको बता दें कि इस प्रोजेक्‍ट रिपोर्ट के मुताबिक साल भर के खर्च में लगभग 3 लाख रुपए की फिक्‍सड कॉस्‍ट भी शामिल है। इसका मतलब यह हुआ कि आपका साल भर का खर्च, जिसे कॉस्‍ट ऑफ प्रोडकशन कहा जाएगा लगभग 57 लाख 18 हजार रुपए आएगा।

मालूम हो कि यदि आपके द्वारा तैयार सारा माल बिक जाता है तो आपकी कुल सेल्‍स 65 लाख रुपए होगी। यानी कि आपको साल भर में लगभग 7.82 लाख रुपए की इनकम होगी, हालांकि अगर आपका 60 % ही माल बिक पाता है तो आपकी इनकम लगभग 4.69 लाख रुपए होगी।

पूरे प्रोजेक्‍ट के लिए यहां क्लिक करें

http:// https://www.kviconline.gov.in/pmegp/pmegpweb/docs/commonprojectprofile/WHEAT%20MILL%20UNIT.pdf

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.