Loading...

कर्ज से छुटकारा पाने के लिए मुंबई का हेडक्वार्टर बेचेंगे अनिल अंबानी, ग्लोबल कंपनियों से चल रही है बातचीत

0 19

मुकेश अंबानी के छोटे भाई अनिल अंबानी इन दिनों कर्ज के बोझ तले दबे हैं और इससे निपटने के लिए उन्होंने अपना मुंबई में स्थित हेडक्वार्टर बेचने या फिर लॉन्ग टर्म लीज पर देने का फैसला किया है। आपको बता दें कि इसको लेकर कई ग्लोबल कंपनियों से बातचीत चल रही है।

सांताक्रूज में बना है रिलायंस सेंटर

अनिल अंबानी की रिलायंस ग्रुप का मुख्यालय सांताक्रूज स्थित रिलायंस सेंटर में बना हुआ है। जी हां, दरअसल यह रिलायंस सेंटर 7 लाख स्क्वायर फुट में बना हुआ है। सूत्रों की मानें तो अनिल अंबानी रिलायंस सेंटर को छोड़कर दक्षिण मुंबई में बैलार्ड एस्टेट ऑफिस में जाने की योजना बना रहे हैं।

बता दें कि फिलहाल रिलायंस सेंटर को छोड़ने के बाद इसे बेचने या लंबी अवधि के लिए लीज पर देने को लेकर विचार चल रहा है। मालूम हो कि इसे बेचने से अनिल अंबानी ग्रुप को 1500 से 2000 करोड़ रुपए मिलने की उम्मीद है। इस रकम से अनिल अंबानी कर्ज का बोझ कम करना चाहते हैं।

Loading...

ब्लैकस्टोन समेत कई कंपनियों से चल रही बातचीत

दरअसल सूत्रों की मानें तो रिलायंस सेंटर को बेचने या लीज पर देने को लेकर ब्लैकस्टोन समेत कई ग्लोबल कंपनियों से बातचीत चल रही है। बता दें कि कंपनी इंटरनेशनल प्रॉपर्टी कंसल्टेंसी जेएलएल को रिलायंस सेंटर को बेचने की जिम्मेदारी दे सकती है।

दरअसल रिलायंस ग्रुप के हेडक्वार्टर की मालिकाना कंपनी रिलायंस इंफ्रास्ट्रक्चर है। आपको बता दें कि अनिल अंबानी ने इस वित्त वर्ष में कर्ज को घटाकर आधा करने का ऐलान किया है। दरअसल इसके लिए अनिल अंबानी कई कंपनियों में अपनी हिस्सेदारी बेच रहे हैं।

हेडक्वार्टर पर चल रहा है ये विवाद

आपको बता दें कि प्राप्त जानकारी के अनुसार, इस हेडक्वार्टर पर कानूनी विवाद भी चल रहा है। जी हां, दरअसल साल 2017 में अडानी ट्रांसमिशन ने रिलायंस इंफ्रा के रिटेल इलेक्ट्रिसिटी डिस्ट्रीब्यूशन को खरीदने के बाद इस हेडक्वार्टर में ऑफिस स्पेस बनाने की मांग की थी। मालूम हो कि यह मामला अभी भी ट्राइब्यूनल में लंबित है। जानकारों की मानें तो इस विवाद के बाद हेडक्वार्टर को बेचने में परेशानी हो सकती है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.