Loading...

वर्ल्ड कप 2019: इन 5 कारणों से 27 साल बाद भारत को इंग्लैंड से मिली हार

0 33

भारत और इंग्लैंड के बीच खेले गए मुकाबले में भारतीय टीम को 31 रनों से शिकस्त झेलनी पड़ी। पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड की टीम निर्धारित ओवरों में 337 बनाए और भारत को 338 रनों का लक्ष्य दिया। भारतीय टीम ने 50 ओवरों में 5 विकेट के नुकसान पर 306 रन बनाए। आइए जानते हैं भारतीय टीम की हार के पांच मुख्य कारण।

पावरप्ले में खराब बल्लेबाजी

लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम ने शुरुआत के पावरप्ले के 10 ओवर में मात्र 28 रन बनाए। इस दौरान लोकेश राहुल नौ गेंदों में बिना कोई रन बनाए आउट हो गए। विश्व कप 2019 में भारतीय टीम का पावरप्ले में यह सबसे कम स्कोर रहा।

अंतिम ओवरों में भारतीय गेंदबाजों का खराब प्रदर्शन

Loading...

भारतीय टीम के गेंदबाजों ने अंतिम 10 ओवरों में 92 रन लुटाए। भले ही भारतीय गेंदबाजों ने अंतिम ओवरों में 4 विकेट हासिल किए। लेकिन इंग्लैंड को इससे कोई फर्क नहीं पड़ा। इंग्लैंड ने भारत के सामने पहाड़ जैसा 338 रनों का लक्ष्य रखा।

मोहम्मद शमी की खराब गेंदबाजी

भले ही इस मुकाबले में मोहम्मद शमी ने 5 विकेट लिए । लेकिन उन्होंने अंतिम ओवरों में खूब रन लुटाए। अपने आखिरी 3 ओवरों में मोहम्मद शमी ने कुल 44 रन दिए।

शुरुआत के 20 ओवरों में इंग्लैंड की खतरनाक बल्लेबाजी

इंग्लैंड की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए शुरुआत के 20 ओवरों में बिना कोई विकेट गवाएं 145 रन बना लिए। पहले विकेट के लिए जॉनी बेयरस्टो और जेसन रॉय के बीच 160 रनों की साझेदारी हुई। भारतीय टीम के गेंदबाज इन दोनों बल्लेबाजों को रोकने में पूरी तरह से नाकामयाब रहे। भारतीय टीम ने अपने शुरुआती 20 ओवरों में मात्र 83 रन बनाए।

इंग्लैंड की कमाल की फील्डिंग

भारतीय टीम की हार का एक मुख्य कारण यह भी रहा। इंग्लैंड के कप्तान ने भारतीय बल्लेबाजों को रोकने के लिए बहुत ही प्लानिंग से फील्ड सेट किया। इसी लिए भारतीय टीम को बाउंड्री लगाने में बहुत कठिनाई हुई।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.