Loading...

इस रिपोर्ट का दावा, देश में बिकने वाली 53% एलईडी हैं बेहद खतरनाक

0 26

एक ताजा रिपोर्ट की मानें तो देश में बिक रहे ज्यादातर एलईडी ब्लब और डाउनलाइटर ब्रांड असुरक्षित हैं। जी हां, दरअसल ऐसा इसलिए क्योंकि इनके उत्पादन में तय मानकों का पालन नहीं किया जा रहा है।

नीलसन ने जारी की है ये रिपोर्ट

मालूम हो कि मार्केट रिसर्च कंपनी नीलसन द्वारा एक रिपोर्ट के अनुसार, ऐसे उत्पाद, भारतीय सुरक्षा मानक (यानी कि बीआईएस) और इलेक्ट्रॉनिक्स व सूचना प्रौद्योगिक मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा प्रकाश उत्पादों के लिए निर्धारित व अनिवार्य किए गए का पालन नहीं कर रहे हैं।

8 शहरों के 400 रिटेल आउटलेट्स पर किया सर्वे

Loading...

मालूम हो कि नीलसन ने देश के 8 चुनिंदा शहरों नई दिल्ली, मुंबई, कोलकाता, चेन्नई, दुर्गापुर, बरेली, अहमदाबाद और हैदराबाद में स्थित 400 दुकानों पर यह सर्वे किया था। बता दें कि ये सर्वे साल 2018 में किया गया था।

यह हुआ है अध्ययन

आपको बता दें कि इस सर्वे के अनुसार राष्ट्रीय राजधानी में एलईडी बल्ब ब्रांडों में आधे से ज्यादा यानी कि 52% बीआईएस मानकों के अनुरूप नहीं हैं। वहीं जब एलईडी डाउनलाइटर श्रेणी की बात आती है, तो 58% इनकी भी की यही हालत है। बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी में सर्वे किए गए एलईडी ब्रांडों में से 36% एलईडी बल्ब ब्रांड और 58% एलईडी डाउनलाइटर दिशा-निर्देशित ब्रांड कानूनी मानक के अनुरूप नहीं हैं।

11,400 करोड़ का है एलईडी बाजार

आपको बता दें कि एलकोमा यानी कि इलेक्ट्रिक लैंप ऐंड कंपोनेंट मैन्युफेक्चर्स एसोसिएशन के अनुसार, भारत में एलईडी का कुल बाजार 11,400 करोड़ रुपये का है, जिनमें एलईडी बल्ब और डाउनलाइटर कुल एलईडी बाजार के 72% हैं और घरों, दफ्तरों और कार्यक्षेत्रों में इनका काफी इस्तेमाल किया जाता है।

दरअसल एलकोमा के सलाहकार सुनील सिक्का के अनुसार ‘नकली प्रकाश उत्पादों की बाजार में हिस्सेदारी बढ़ना प्रकाश उद्योग के लिए बड़ी चिंता की बात है, दरअसल न सिर्फ ये उत्पाद केवल उपभोक्ताओं को जोखिम में डालते हैं, बल्कि करों का भुगतान नहीं होने से भी बड़ा नुकसान होता है।’

सुनील सिक्का के मुताबिक, ‘देश में बेचे गए आधे से ज्यादा प्रकाश-उत्पादों के सुरक्षा मानकों के अनुरूप नहीं होने की स्थिति में यह महत्वपूर्ण है कि सरकार भविष्य के नुकसानों को रोकने के लिए कदम उठाए ताकि किसी का बेफिजूल नुकसान न हो।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.