Loading...

विपक्ष के दावों की खुली पोल, आंकड़ो के अनुसार 1 महीने में 10.88 लाख लोगों को मिला रोजगार

0 12

वैसे तो विपक्ष रोजगार के मामले पर मोदी सरकार को घेरता रहा है लेकिन आंकड़े विपक्ष के इन आरोप को साफ-साफ नकार रहे हैं. जी हां, दरअसल देश में लगातार नए रोजगार पैदा हो रहे हैं और लोगों को काम मिल रहा है. बता दें कि इस साल अप्रैल में 10.88 लाख रोजगार सृजित हुए.

मालूम हो कि यह पिछले साल इसी महीने में हुये 10.77 लाख रोजगार सृजन के मुकाबले थोड़ा अधिक है. आपको बता दें कि कर्मचारी राज्य बीमा निगम (यानी कि ईएसआईसी) के सकल वेतन भुगतान के उपलब्ध आंकड़े से यह पता चलता है.

मालूम हो कि केंद्रीय सांख्यिकी कार्यालय (सीएसओ) ने सितंबर 2017 से अप्रैल 2019 के रोजगार परिदृश्य के बारे में रिपोर्ट जारी की है. जी हां, दरअसल यह रिपोर्ट कर्मचारी राज्य बीमा निगम के अलावा कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (यानी कि ईपीएफओ) तथा पेंशन कोष नियामकीय एवं विकास प्राधिकरण (यानी कि पीएफआरडीए) द्वारा संचालित एनपीएस (नई पेंशन योजना) के आंकड़ों के आधार पर जारी की गयी है.

दरअसल इसके अनुसार कुल मिलाकर 2018-19 में 1.49 करोड़ नये लोगों का पंजीकरण हुआ. बता दें कि इसका मतलब है कि वित्त वर्ष के दौरान इतने रोजगार सृजित हुए.

Loading...

मालूम हो कि सितंबर 2017 से मार्च 2018 के दौरान कुल 83.31 लाख नये अंशधारक ईएसआई योजना से जुड़े. बता दें कि ईएसआईसी कर्मचारियों के लिये स्वास्थ्य बीमा चलाता है.

बता दें इसी प्रकार ईपीएफओ के रोजगार के आंकड़े के अनुसार शुद्ध रूप से अप्रैल 2019 में 10.43 लाख रोजगार पैदा हुए.

दरअसल आंकड़े के अनुसार ईपीएफओ द्वारा संचालित सामाजिक सुरक्षा योजनाओं के अंतर्गत साल 2018-19 में शुद्ध रूप से 61.12 लाख लोग पंजीकृत हुए. वहीं सितंबर 2017 से मार्च 2018 के दौरान 15.52 लाख नये अंशधारक जुड़े.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.