Loading...

आप भी करते हैं PPF, NSC और सुकन्या योजना में निवेश, तो सरकार का ये फैसला आपके मुनाफे पर डालेगा असर

0 18

अगर आप भी सरकार की स्कीमों में निवेश करते हैं तो बता दें कि इससे संबंधित एक बहुत ही बड़ी खबर आई है. जी हां, दरअसल सुनने में आ रहा है कि केंद्र की मोदी सरकार एनएससी और पीपीएफ समेत सभी छोटी बचत योजनाओं पर ब्याज दरों में कटौती करने का फैसला ले सकती है.

जी हां, दरअसल हिंदी बिज़नेस चैनल CNBC आवाज़ की एक खबर के मुताबिक, छोटी बचत योजना पर ब्याज दरें 30 बेसिस अंक यानी 0.30% तक कम हो सकती हैं. यह कटौती जुलाई से सितंबर तिमाही के लिए लागू होगी.

आपको बता दें कि सरकार के इस कदम के बाद बैंकों पर डिपॉजिट पर ब्याज दरें घटाने का दबाव बढ़ जाएगा. दरअसल सरकार स्मॉल सेविंग्स स्कीम पर हर तिमाही ब्याज दर तय करती है. मालूम हो कि यह सरकार पर निर्भर करता है कि वह कब इसमें बदलाव करे. हालांकि ऐसा जरूरी नहीं है कि सरकार हर तिमाही में बदलाव करे.

ये हैं वर्तमान में छोटी बचत योजनाओं की मौजूदा ब्याज दरें

Loading...

पब्लिक प्रोविडेंट फंड : 8%

सुकन्या समृद्धि योजना : 8.5%

वरिष्ठ नागरिक बचत योजना : 8.7%

राष्ट्रीय बचत पत्र : 8%

किसान विकास पत्र : 7.7%

दरअसल प्राप्त जानकारी के मुताबिक, वर्तमान वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही यानी जुलाई से सितंबर के लिए PPF, NSC, KVP की ब्याज दरों में कटौती हो सकती है. आपको याद दिला दें कि इससे पहले सितंबर 2018 में सबसे ज्यादा ब्याज दरें बढ़ी थीं. वहीं, पिछली बार सरकार ने तीसरी तिमाही (अक्टूबर-दिसंबर) के लिए सितंबर 2018 में ब्याज दरें बढ़ाने की घोषणा की थी.

आपको बता दें कि वित्त मंत्रालय ने उस समय सितंबर में विभिन्न लघु बचत योजनाओं की ब्याज दरों में 0.30% से 0.40% तक वृद्धि की थी. मालूम हो कि इसके बाद पीपीएफ और नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (एनएससी) पर ब्याज दर 8%, सुकन्या समृद्धि योजना पर 8.5% जबकि वरिष्ठ नागरिक बचत योजना पर 8.7% हो गई थी.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.