Loading...

पाकिस्तान की नापाक चाल, करतारपुर साहिब के दर्शन के लिए भारतीय यात्रियों से 100 डॉलर वसूलने की कर रहा है तैयारी

0 26

पाकिस्तान एक तरफ तो भारत से दोस्ती करना चाहता है लेकिन दूसरी तरफ अपनी नापाक हरकतों का प्रदर्शन करने से भी बाज नहीं आता। जी हां, दरअसल खबर आई है कि भारत से गुरुद्वारा करतारपुर साहिब के दर्शन के लिए जाने वाले हर श्रद्धालु से पाकिस्तान फीस वसूलने की तैयारी कर रहा है।

जी हां, और इसके साथ ही पाकिस्तान की ओर से रखी गई शर्तों में दर्शन के लिए पासपोर्ट होना भी आवश्यक माना गया है। इसके अलावा दर्शन करने वालों को एक खास परमिट भी दिया जाएगा।

दरअसल इस बात की जानकारी दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमिटी के प्रेजिडेंट मनजिंदर सिंह सिरसा ने दी है। बता दें कि बीते शुक्रवार को गुरुद्वारा कमिटी का एक डेलिगेशन गृह मंत्रालय के अधिकारियों को मिला और करतारपुर साहिब कॉरिडोर प्रोजेक्ट ते चल रहे निर्माण कार्यों की जानकारी ली गई।

पाकिस्तान सरकार सिर्फ 700 श्रद्धालुओं को ही एंट्री देगी

Loading...

मालूम हो कि मनजिंदर सिंह सिरसा ने बताया कि भारत की पाकिस्तान सरकार के साथ श्रद्धालुओं के करतारपुर साहिब जाने की जो बातचीत हुई है उसमें भारत सरकार ने हर रोज 5 हजार श्रद्धालुओं के दर्शन करने का प्रस्ताव रखा है लेकिन पाकिस्तान सरकार की ओर से 700 श्रद्धालुओं को ही एंट्री देने की बात कही गई है।

भारतीय सरकार ने श्रद्धालुओं को फ्री में भेजने की बात कही

आपको बता दें कि सिरसा ने यह भी बताया कि गुरुपूरब पर करतारपुर गुरुद्वारे के दर्शन करने वाले लोगों को 100 डॉलर तक फीस भी देने की बात कही जा रही है। दरअसल सिरसा ने कहा कि भारतीय सरकार ने पाकिस्तान की इस बात का विरोध किया है और श्रद्धालुओं को फ्री में भेजने की बात कही गई है।

मालूम हो कि ऐसा भी बताया जा रहा है कि फीस भरने के बाद श्रद्धालुओं को एक किलोमीटर पैदल चलना पड़ेगा जिसके बाद बस टर्मिनल से बसों के जरिए गुरुद्वारा साहिब तक पहुंच सकेंगे।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.