Loading...

सचिन-गांगुली सहित इन क्रिकेटर को दिया गया अल्टीमेट, कमेंट्री या IPL, इनमें से किसी एक को चुनना होगा

0 13

एक बार फिर से हितों के टकराव का मामला उजागर हुआ है। बीसीसीआई द्वारा सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली जैसे पूर्व महान क्रिकेटर को आईपीएल या कमेंट्री में से किसी एक चीज को चुनने के लिए बोला गया है। इस समय तेंदुलकर-गांगुली जैसे पूर्व महान क्रिकेटर विश्व कप में कमेंट्री कर रहे हैं। लेकिन यह क्रिकेटर आईपीएल में अलग-अलग भूमिका निभाते हैं। जब से सुप्रीम कोर्ट ने प्रशासकों की समिति का चयन किया है तब से ऐसे मामले उजागर हो रहे हैं।

सचिन तेंदुलकर, सौरव गांगुली, वीवीएस लक्ष्‍मण, मोहम्‍मद कैफ जैसे कई भारतीय क्रिकेटर विश्व कप 2019 में कमेंट्री कर रहे हैं। सचिन तेंदुलकर मुंबई इंडियंस की टीम से जुड़े हुए हैं। जबकि सौरव गांगुली और मोहम्मद कैफ दिल्ली कैपिटल से। सनराइजर्स हैदराबाद के मेंटर वीवीएस लक्ष्‍मण है। हरभजन सिंह चेन्नई सुपर किंग्स के स्पिनर है।

इंडियन एक्सप्रेस की खबर के अनुसार बीसीसीआई के अधिकारी डीके जैन ने इस मामले में शिकायत दर्ज कराई थी। एक बार फिर से डीके जैन ने हितों के टकराव के मामले में इन खिलाड़ियों को घसीट लिया है। उनका कहना है कि यह क्रिकेटर्स लोढ़ा पैनल की सिफारिशों का पालन नहीं कर रहे हैं। राहुल द्रविड़ ने दिल्ली डेयरडेविल्स की टीम में मेंटर की भूमिका छोड़ दी और फिर बीसीसीआई ने उनको भारत ए और अंडर-19 टीम का कोच नियुक्त कर दिया।

सचिन तेंदुलकर सीएसी का हिस्सा बनने से साफ मना कर चुके हैं। उनका कहना है कि बोर्ड को उनके साथ संदर्भ की शर्तों पर सहमत होना होगा। सचिन तेंदुलकर से कई बार निवेदन किया गया। जब कोई भी उपाय नहीं मिला तो फिर बीसीसीआई से कहा गया कि जब तक संदर्भ की शर्त पर सहमती ना हो जाए तब तक वह बीसीसीआई की किसी भी समिति के सदस्य नहीं रहेंगे। तेंदुलकर के कानूनी सलाहकार ने इस बारे में बताया था।

Loading...

मध्यप्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन के आजीवन सदस्य संजीव गुप्ता सचिन तेंदुलकर और वीवीएस लक्ष्मण पर हितों के टकराव मामले का आरोप लगा चुके हैं। उनका कहना है कि यह दोनों खिलाड़ी सीएसी के सदस्य होने के अतिरिक्त आईपीएल की टीमों से जुड़े हुए हैं। अब देखने वाली बात यह है कि यह खिलाड़ी विश्व कप में कमेंट्री या आईपीएल में से किसे चुनते हैं।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.