Loading...

अब जनरल कोच में सफर करेंगे रेल अफसर, मोदी सरकार ने लिया बड़ा फैसला

0 92

भारतीय रेलवे में आए दिन बदलाव देखने को मिल रहे हैं. अब एक और बदलाव होने जा रहा है. जी हां, दरअसल अब फर्स्ट और सेकेंड AC क्लास में सफर करने वाले रेलवे के वरिष्ठ अधिकारियों को अब ट्रेन सफर के दौरान कम से कम आधे घंटे जनरल कोच में सफर करना जरूरी होगा. बता दें कि सूत्रों से मिली
जानकारी के मुताबिक रेल मंत्री और रेल राज्य मंत्री की ओर से ये आदेश दिया गया है.

आपको बता दें कि ये फैसला तुरंत प्रभाव से लागू है. दरअसल रेल मंत्री ने जनरल कोच की दशा सुधारने के लिए ये कदम उठाया है. मालूम हो कि रेल मंत्री ने यह भी कहा है कि जनरल कोच के टॉयलेट और साफ-सफाई पर पूरा ध्यान दिया जाए. इसके अलावा यात्रियों के फीडबैक के आधार पर ज़रूरी कदम भी उठाए जाएं. मालूम हो कि रेल राज्य मंत्री इसकी खुद मॉनिटरिंग करेंगे.

आखिर क्यों उठाया गया ये कदम

मालूम हो कि रेलवे के वरिष्ठ अधिकारी अब जनरल कोच में यात्रा करेंगे. जी हां, दरअसल रेल मंत्री ने सभी GMs और DRMs के साथ बैठक कर ये फैसला लिया है. बता दें कि हर क्लास वन अधिकारी ट्रेन यात्रा के दौरान कम से कम आधे घंटे जनरल कोच में बिताएगा.

Loading...

प्राइवेट कंपनियां चलाएंगी ट्रेन

जानकारी के लिए बता दें कि इससे पहले, यात्रियों को बेहतर सुविधा मुहैया कराने के लिए रेल मंत्रालय ने एक योजना तैयार की है. जी हां, दरअसल इस योजना के मुताबिक, शताब्दी और राजधानी जैसी प्रीमियम ट्रेनों की कमान प्राइवेट कंपनियों को सौंपी जाएगी.

दरअसल इस तरह से रेलवे का खर्च कम होगा और इससे यात्रियों को भी अच्छी सर्विस मिल पाएगी. बता दें कि रेलवे के मुताबिक ट्रेनों के निजीकरण से यात्रियों के लिए सुविधाएं बढ़ेंगी.

कंपनी का चयन होगा टेंडर प्रक्रिया से जरिये

आपको बता दें कि निजी कंपनियों का चुनाव टेंडर प्रक्रिया के जरिये किया जाएगा. दरअसल सूत्रों के मुताबिक रेल मंत्रालय इन कंपनियों को परमिट जारी करेगा. हालांकि रेल के डिब्बों और इंजन की जिम्मेदारी रेलवे की होगी, लेकिन स्टॉफ समेत सुविधाओं का जिम्मा निजी कंपनी पर होगा.

यह भी बता दें कि फिलहाल रेलवे बोर्ड योजना के लिए मसौदा तैयार कर रहा है. मालूम हो कि किराये की ऊपरी सीमा रेलवे तय करेगा. दरअसल इसके बाद कंपनी तय किराए से अधिक वसूल नहीं कर पाएंगी।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.