Loading...

पोस्ट ऑफिस की इन 2 स्कीमों में करें निवेश, बैंक FD से ज्यादा मिलेगा रिटर्न

0 29

जब बात निवेश की आती है तो बता दें कि पोस्ट ऑफिस कई तरह की निवेश सम्बंधित सर्विस भी मुहैया करवाता है. आपको बता दें कि पोस्ट ऑफिस में पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF) समेत 9 प्रकार की स्मॉल सेविंग स्कीम की पेशकश की जाती है जो सरकार की तरफ से प्रायोजित निवेश स्कीम हैं.

हालांकि पोस्ट ऑफिस की इन स्कीमों में दो स्कीम ऐसी हैं, जिसकी ब्याज दर 8% से ज्यादा है यानी इन दो स्कीम में निवेश करने पर ज्यादा मुनाफा कमाया जा सकता है.

1. सीनियर सिटीजन सेविंग स्कीम

जैसा कि नाम से जाहिर है कि पोस्ट ऑफिस की वरिष्ठ नागरिक बचत योजना वरिष्ठ नागरिकों के लिए है. बता दें कि इस स्कीम में बैंक की फिक्स्ड डिपॉजिट से ज्यादा ब्याज मिलता है. बता दें कि वरिष्ठ नागरिकों के लिए पोस्ट ऑफिस की यह स्कीम सबसे सुरक्षित निवेश का जरिया है.

Loading...

मालूम हो कि इस स्कीम के तहत 5 साल के लिए पैसा निवेश किया जा सकता है. मालूम हो कि मैच्योरिटी के बाद इस स्कीम को 3 साल के लिए बढ़ाया जा सकता है. इस योजना के तहत आप अधिकतम 15 लाख रुपये तक का निवेश कर सकते हैं.

सालाना 8.7% है ब्याज दर

मालूम हो कि वरिष्ठ नागरिक बचत योजना में निवेश की गई पूंजी पर सालाना 8.7% का ब्याज मिलता है. हालांकि बता दें कि इस ब्याज पर टैक्स देना होता है. मालूम हो कि इस स्कीम के तहत निवेश करने पर 1 अप्रैल, 2007 से इनकम टैक्स एक्ट 1961 के सेक्शन 80C के अंतर्गत टैक्स छूट का लाभ मिल रहा है.

जानिए कब खोल सकते हैं अकाउंट

आपको बता दें कि सीनियर सिटीजन रिटायरमेंट के बाद SCSS अकाउंट खोल सकते हैं. दरअसल इस्कज 60 वर्ष या उससे अधिक आयु के बाद खोला जा सकता है. इसके अलावा VRS लेने वाला व्यक्ति जो 55 वर्ष से अधिक लेकिन 60 वर्ष से कम है वो भी इस अकाउंट को खोल सकता है.

जानकारी के लिए बता दें कि इस अकाउंट का मैच्योरिटी पीरियड 5 वर्ष है. इस अकाउंट को नकद और चेक के जरिये खोला जा सकता है. बता दें कि 1 लाख रुपये से कम की नकद रकम पर इस अकाउंट को खोला जा सकता है. हालांकि अगर आप 1 लाख रुपये से अधिक रकम से अकाउंट खोलना चाहते हैं तो चेक देना अनिवार्य है.

2. सुकन्या समृद्धि स्कीम

सुकन्या समृद्धि स्कीम पोस्ट ऑफिस की एक बेहद ही चर्चित स्कीम है। दरअसल इस कमाल की स्कीम के तहत आपको अपनी बेटी के लिए अकाउंट खोलने का मौका मिलता है. बता दें कि इस स्कीम के तहत खाता खोलने के लिए एक वित्त वर्ष में कम से कम 1 हजार रुपये और अधिकतम 1.5 लाख रुपये की जरूरत होती है.

बता दें कि सालाना 1.5 लाख रुपये के निवेश पर आप टैक्स छूट का फायदा उठा सकते हैं. वहीं, अगर किसी वित्त वर्ष में आपके खाते में 1 हजार रुपये जमा नहीं होते हैं, तो आपका खाता बंद हो जाएगा. बता दें कि ऐसी स्थिति में आप पर जुर्माना भी लगेगा.

8.5% की है ब्याज दर

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि सुकन्या समृद्धि स्कीम में सालाना 8.5% ब्याज मिलता है. यही नहीं, इसके साथ ही सेक्शन 80C के तहत इस योजना में निवेश करने पर टैक्स छूट का भी लाभ मिलता है. खास बात यह है कि स्कीम से मिलने वाला रिटर्न भी टैक्स फ्री है.

जानिए इस स्कीम में कौन खुलवा सकता है खाता

आपको बता दें कि यह खाता बेटी के माता-पिता या कानूनी अभिभावक उसके नाम से खुलवा सकते हैं. यहां एक बात का ध्यान रखें कि इसे बेटी के जन्म से उसके 10 साल का होने तक खुलवाया जा सकता है. इसके अलावा नियमों के मुताबिक, एक बच्ची के लिए एक ही खाता खोला जा सकता है यानी एक बच्ची के लिए दो खाते नहीं खोले जा सकते हैं.

मालूम हो कि यह खाता खुलवाते समय बेटी का बर्थ सर्टिफिकेट पोस्ट ऑफिस या बैंक में देना आवश्यक है. इसके साथ ही बेटी और अभिभावक के पहचान और पते का प्रमाण भी भी देना पड़ता है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.