Loading...

Delhi-NCR में फिर बढ़ने वाली है गर्मी, जुलाई से पहले नहीं मिलने वाली गर्मी से कोई राहत

0 22

दिल्ली व एनसीआर एवं यूपी के कुछ इलाकों में पिछले 2-3 से मौसम सुहाना है लेकिन ये ज्यादा दिन तक नहीं रहेगा। जी हां, दरअसल दिल्ली व एनसीआर एवं आसपास के लोगों को बुधवार से एक बार फिर तीखी गर्मी का सामना करना पड़ सकता है.

दरअसल अरब सागर की ओर से आने वाली दक्षिण पश्चिमी नम हवाएं काफी मात्रा में नमी दिल्ली तक ले कर आ रही थीं. वहीं एक कम दबाव का क्षेत्र बनने से उत्तर भारत के कई इलाकों में अच्छी बारिश देखी गई. बता दें कि अब यह सिस्टम कमजोर पड़ रहा है. दरअसल आने वाले दिनों में कई और सिस्टम बनता भी नहीं दिख रहा है. इससे बुधवार से एक बार फिर गर्मी बढ़ने का अनुमान लगाया गया है.

आज भी रहेगा उत्तर भारत के कई इलाकों में सुहाना मौसम

दरअसल मौसम वैज्ञानिक समरजीत चौधरी के अनुसार उत्तर भारत के कई इलाकों जैसे पंजाब, हरियाणा, राजस्थान, दिल्ली व एनसीआर सहित आसपास के इलाकों में मंगलवार को भी बारिश दर्ज की जाएगी. हालांकि बुधवार से एक बार फिर तापमान बढ़ने का सिलसिला शुरू होगा.

Loading...

चौधरी के अनुसार, अगले कुछ दिनों तक गर्मी से राहत मिलने की उम्मीद भी कम है. दिल्ली में मानूसन को पहुंचने में भी इस बार देरी होगी. बता दें कि साधारणतः मानसून दिल्ली में 29 जून को पहुंचता है. लेकिन इस साल यह 2 या 3 जुलाई तक पहुच सकता है.

मानसून ने पकड़ी है रफ्तार

आपको बता दें कि चक्रवाती तूफान वायु का प्रभाव कम हो जाने से मानसून ने एक बार फिर तेजी पकड़ी है. जी हां, दरअसल मंगलवार को मानसून मैंगलोर, तमिलनाडु, उत्तरी बंगाल के अलिपुर द्वार तक व उत्तर पूर्व के कुछ हिस्सों तक पहुंच गया है. उम्मीद है कि कुछ ही दिनों में यह बिहार तक पहुंच जाएगा. हालांकि जून महीने में इस बार बारिश की संभावना थोड़ी कम है. लेकिन जुलाई में पूरे देश में अच्छी बारिश दर्ज की जाएगी.

कुछ इलाकों में आज हो सकती है बारिश

बता दें कि मौसम विभाग के अनुसार मंगलवार को दिल्ली में पूरे दिन आसमान में बादल छाए रहेंगे. जी हां, दरअसल कुछ इलाकों में तेज हवाओं के साथ धूल भरी आंधी चल सकती है जबकि कुछ इलाकों में तेज हवाओं के साथ बारिश होने का भी अनुमान है. बता दें कि अधिकतम तापमान 37 डिग्री व न्यूनतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस के करीब रह सकता है.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.