Loading...

अगर आप करना चाहते हैं अच्छी कमाई तो खोलिए नए जमाने का पेट्रोल पंप, मुफ्त बिजली समेत मिलेंगी ये छूट

0 49

एक तरफ दिन प्रतिदिन बढ़ती पेट्रोल/डीज़ल की कीमतें और दूसरी तरफ तेज़ी से बढ़ता प्रदूषण, ये दो ऐसे प्रमुख कारण हैं जिनकी वजह से इलेक्ट्रिक वाहन बाजार का काफी सुनहरा भविष्य खासतौर पर भारत में दिखलाई दे रहा है.

वैसे सरकार की नई इलेक्ट्रिक व्हीकल पॉलिसी का ड्राफ्ट आज दिल्ली कैबिनेट को भेज दिया गया है. जी हां, दरअसल इस पॉलिसी में चार्जिंग स्टेशन लगाने पर सरकार की तरफ से मुफ्त बिजली दी जाएगी.

इसके अलावा एक्सक्लूसिव इलेक्ट्रिक व्हीकल यानी कि EV जोन भी बनाए जाएंगे. बता दें कि एक्सक्लूसिव EV में सिर्फ इलक्ट्रिक गाड़ियां चलेंगी. मालूम हो कि सरकार का 10,000 इलेक्ट्रिक व्हीकल चार्जिंग स्टेशन बनाने का लक्ष्य है. बता दें कि फेम की सब्सिडी के ऊपर भी सब्सिडी देने की योजना है.

Loading...

वहीं दूसरी तरफ ई- बाईक टैक्सी को भी मंजूरी मिलेगी. बता दें कि इस पॉलिसी को दिल्ली कैबिनेट की मंजूरी मिलना अभी शेष है. आपको बता दें कि दिल्ली सरकार की ओर से ई-चार्जिंग स्टेशन लगाने और उपकरण खरीदने के लिए बड़ी छूट दी जा रही है. जी हां, दरअसल इसके लिए मुफ्त बिजली भी मिलेगी. साथ ही, बड़े लाइसेंस लेने की भी जरुरत नहीं होगी.

हर 10-20 किमी पर लगेगा एक चार्जिंग स्टेशन

आपको बता दें कि केंद्र की मोदी सरकार इलेक्ट्रिक व्हीकल को बढ़ावा देने के लिए तेजी से काम कर रही है. जी हां, दरअसल इसी कड़ी में इंफ्रास्ट्रक्चर खड़ा करने के लिए सरकार हाईवे पर चार्जिंग स्टेशन बनाने की तैयारी में लगी हुई है.

मालूम हो कि ई-व्हीकल्स पर इस खास पहल के तहत बड़े और व्यस्त हाईवे पर चार्जिंग स्टेशन बनेंगे. बता दें कि दिल्ली-चंडीगढ़ हाईवे पर 40 स्टेशन लगेंगे. वहीं हर 10-20 किमी पर एक चार्जिंग स्टेशन लगेगा. आपको बता दें कि ये चार्जिंग स्टेशन सोलर पावर से चलेंगे.

दरअसल केंद्र सरकार का लक्ष्य है कि साल 2030 तक देश भर में 25 से 30 % वाहन इलेक्ट्रिक हों ताकि प्रदूषण कम किया जा सके. वहीं सरकार का लक्ष्य वर्तमान वित्त वर्ष में करीब 4500 चार्जिंग स्टेशन बनाने का है. मालूम हो कि ये सभी राष्ट्रीय और राज्यों के राजमार्गों पर बनाए जाएंगे.

कौन सी कंपनियां लगाएंगी चार्जिंग स्टेशन

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि BHEL और REIL हाईवे पर चार्जिंग स्टेशन लगाएंगी. जी हां, दरअसल चार्जिंग स्टेशन के लिए फंड एफएएमई के तहत मिलेगा. बता दें कि सरकारी तेल कंपनियों इंडियन ऑयल, भारत पेट्रोलियम के पेट्रोल पंप का इस्तेमाल किया जाएगा.

इन शहरों में बनेगा चार्जिंग इंफ्रास्ट्रक्चर

आपको बता दें कि 6 शहरों में भी चार्जिंग इंफ्रास्ट्रचर बनाया जाएगा. मालूम हो जिसमें रांची, बंगलुरु, गोवा में शिमला, हैदराबाद, कोच्चि में शामिल हैं. बता दें कि इन शहरों में REIL 270 चार्जिंग स्टेशन लगाएगी.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.