Loading...

अब आप घर बैठे ही बुक कर सकते हैं ट्रेन का जनरल टिकट, जानिए रेलवे की इस खास सर्विस के बारे में

0 34

ये तो हम सब जानते हैं कि बीते कुछ सालों से भारतीय रेलवे यात्रियों को बेहतर सुविधा देनें के लिए लगातार कई कदम उठा रहा है. बता दें कि अब आप घर बैठे जनरल टिकट बुक कर सकते हैं. जी हां, दरअसल इस सुविधा को लेकर रेलवे ने पिछले साल UTS ऐप की शुरुआत की है.

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस ऐप के जरिये यात्री उपनगरीय और गैर उपनगरीय स्टेशनों के लिए अनारक्षित टिकट और प्लेटफॉर्म टिकट आसानी से बुक कर सकते हैं और वो भी बिना लंबी लाइन में लगे. चलिए जानते हैं इसके बारे में..

इस तरह करें टिकट बुक

मालूम हो कि इसके लिए सर्वप्रथम आपको मोबाइल में UTS ऐप डाउनलोड करना होगा. जी हां, फिर इसके बाद अपना नाम, मोबाइल नंबर, आई-डी कार्ड नंबर की जानकारी भरें और रजिस्टर करें. बता दें कि रजिस्टर करने पर एक ओटीपी आपके मोबाइल नंबर में आएगा. दरअसल अब आपका साइन अप हो सकेगा. बता दें कि इसके बाद आईडी और पासवर्ड आपके रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर पर आएगा और फिर जिसके जरिए UTS लॉग इन होगा.

Loading...

आपको R-Wallet को करना होगा रिचार्ज

आपको बता दें कि R-Wallet को आप पेटीएम, ऑनलाइन बैंकिंग या क्रेडिट/डेबिट कार्ड के जरिए रीचार्ज कर सकते हैं. दरअसल इसे आप न्यूनतम 100 रुपये से रिचार्ज कर सकते हैं. यहां बता दें कि रिचार्ज की अधिकतम राशि 10,000 रुपये है. दरअसल अगर आप 10 हजार का रीचार्ज करते हैं तो 500 का कैशबैक भी उपलब्ध है.

रखें इन बातों का विशेष रूप से ध्यान

बता दें कि अनारक्षित टिकट, सीजन टिकट, प्लेटफार्म टिकट भी बुक कर सकते हैं.

मालूम हो कि यात्रा टिकट स्टेशन के 5 किमी की परिधि और प्लेटफार्म टिकट 2 किमी की दूरी पर बन सकेंगे.

बता दें कि स्टेशन परिसर में घुसने के बाद टिकट बुक नहीं हो सकेंगे. जिससे यात्री ट्रेन के भीतर टीटीई को देखकर बुक न कर सकें. बल्कि पहले से कर लें.

ज्ञात हो कि अग्रिम टिकट और रियायती टिकट बुक नहीं होंगे, यात्रा वाले दिन ही टिकट बुक होंगे.

मालूम हो कि बुक हो चुके पेपरलेस टिकट को शो टिकट में क्लिक कर देखा जा सकता है निरस्त नहीं किया जा सकता.

एक बार में 4 टिकट की करें बुकिंग

आपको बता दें कि इस टिकट पर भी यात्रियों को पीएनआर नंबर दिया जाएगा. जी हां, दरअसल एक पीएनआर पर यात्री अधिकतम 4 लोगों की टिकट को बुक करा सकेंगे. बता दें कि किस स्टेशन से चलना और किस स्टेशन पर उतरना है, इससे जुड़ा जीपीएस संदेश टिकट बुकिंग के बाद आएगा. वहीं टिकट का भुगतान डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, पेटीएम आदि से कर सकेंगे.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.