Loading...

WhatsApp का एलान, फेक न्यूज फैलाई तो होगी कानूनी कार्यवाही, बल्क में भी नहीं भेज पाएंगे संदेश

0 25

सबसे बड़ी मैसेजिंग कंपनी व्हाट्सऐप फेक न्यूज और अफवाहों पर लगाम लगाने के लिए अपने नियमों को एक बार फिर सख्त बनाने जा रही है. जी हां, दरअसल इस बार व्हाट्सऐप ने साफ कहा है कि थोक में यानी बल्क में मैसेज करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जाएगी. हालांकि व्हाट्सऐप ने भी साफ किया है कि नया नियम 7 दिसंबर से लागू करने की बात कही है.

मालूम हो कि इससे पहले व्हाट्सऐप ने इस साल के शुरूआत में मैसेज भेजने की संख्या पर लगाम लगाई थी. दरअसल पहले व्हाट्सऐप से एकसाथ काफी लोगों को संदेश भेजे जा सकते थे. हालांकि अब कंपनी ने इन्हें सीमित करके केवल 5 मैसेज एकसाथ भेजने की लिमिट तय कर दी थी.

बता दें कि इसके बाद भी कुछ कंपनियां या लोग सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करके बड़ी संख्या में व्हाट्सऐप मैसेज भेज रहे हैं. दरअसल पिछले दिनों संपन्न हुए लोकसभा चुनावों में इस तरह की काफी शिकायतें सामने आई है.

Loading...

आपको बता दें कि भारत सरकार ने भी व्हाट्सऐप को फेक न्यूज और अफवाहों पर अंकुश लगाने के निर्देश दिए थे. यही कारण है कि अब व्हाट्सऐप ने एक बार नए सिरे से नए दिशा-निर्देश जारी किए हैं.

दरअसल व्हाट्सऐप ने साफ कहा है कि 7 दिसंबर, 2019 के बाद से ऐसे लोगों के खिलाफ कड़ी कानून कार्रवाई की जाएगी जो बल्क में मैसेज भेजने का काम कर रहे हैं. व्हाट्सऐपके अनुसार ऐसे लोगों या कंपनियों को ब्लॉ़क भी किया जा सकता है.

ये हैं प्रमुख बिंदु:

बल्क मैसेज करने वालों के खिलाफ होगी कानूनी कार्रवाई.

7 दिसंबर के बाद भेजे बल्क मैसेज तो होगी कड़ी कार्रवाई.

फेक न्यूज और अफवाहों पर लगाम लगाने के लिए सख्त कदम उठाए जाएंगे.

फिलहाल केवल 5 लोगों को एकसाथ मैसेज भेजने की सुविधा है.

बता दें कि भारत में लगभग 20 करोड़ यूजर्स हैं व्हाट्सऐप के.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.