Loading...

CM योगी आदित्यनाथ ने अफसरों को दिए आदेश, रोजगार वाली योजनाओं में स्थानीय युवाओं को दें प्राथमिकता

0 39

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को नोएडा में औद्योगिक विकास प्राधिकरण, ग्रेटर नोएडा औद्योगिक विकास प्राधिकरण, यमुना एक्सप्रेसवे विकास प्राधिकरण की समीक्षा बैठक करी। उन्होंने इस बैठक के दौरान नोएडा एवं उसके आसपास शहरी विकास परियोजनाओं में स्थानीय युवाओं को रोजगार देने की आवश्यकता पर जोर दिया। उन्होंने कहा कि शहर का विकास तो जरूरी है लेकिन उसके साथ साथ उस शहर के युवाओं का विकास भी बेहद आवश्यक है।

शहर के साथ युवाओं का भी विकास हो

आपको बता दें कि योगी आदित्यनाथ ने कहा कि स्थानीय युवाओं की आकांक्षाओं की अनदेखी करके क्षेत्रों को विकसित करना उचित नहीं होगा। दरअसल मुख्यमंत्री ने कहा कि क्षेत्रों के विकास के साथ-साथ स्थानीय लोगों के जीवन स्तर में भी सुधार लाने को प्राथमिकता देनी चाहिए।

उन्होंने आगे कहा कि तीनों प्राधिकरणों को साथ मिलकर नोएडा और आसपास के क्षेत्रों का विकास करना चाहिए। योगी आदित्यनाथ ने इस बात पर भी जोर दिया कि जिला प्रशासन यह सुनिश्चित करे कि स्थानीय युवाओं का विकास भी शहर के विकास का ही एक हिस्सा हो। उन्होंने कहा कि जब हम क्षेत्रों का विकास करें तो हमें उनके कौशल के आधार पर स्थानीय युवाओं को भी रोजगार उपलब्ध कराना चाहिए।

Loading...

नोएडा में प्रवेश करने वालों को महसूस हो बदलाव

मालूम हो कि योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जिला प्रशासन को शहरी क्षेत्रों में जैसी नौकरी की आवश्यकता है उस हिसाब से युवाओं के कौशल विकास को सुनिश्चित करना चाहिए। उन्होंने कहा कि मैं किसी अयोग्य व्यक्ति को नौकरी पर रखने का सुझाव नहीं दे रहा हूं, लेकिन हम हमेशा युवाओं को आवश्यक कौशल प्राप्त करने में मदद कर सकते हैं और फिर उन्हें रोजगार दे सकते हैं।

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री ने आगे कहा कि नोएडा, ग्रेटर नोएडा और यमुना एक्सप्रेस-वे वाले क्षेत्रों में प्रवेश करने वाले लोगों को ऐसा लगना चाहिए कि इन क्षेत्रों में सकारात्मक बदलाव वाकई में हो रहा है। उन्होंने कहा कि सुंदर, हरे भरे पार्क, सार्वजनिक जिम शहर के विकास के बारे में लोगों के मन में एक सकारात्मक धारणा बनाते हैं। इसलिए ऐसे बदलाव होना आवश्यक है।

लोगों के जीवन को आरामदायक बनाने के लिए हो खर्च

आपको बता दें कि मुख्यमंत्री ने तीनों प्राधिकरणों के अनुरोध पर विचार किया है और कहा है कि सरकार प्राधिकरणों में रिक्तियों के लटके पड़े मामले में कर्मचारियों की भर्ती के लिए हर संभावित समर्थन देने पर विचार करेगी। दरअसल योगी ने यह सुझाव दिया कि अधिकारियों को भी खर्च की योजना इस तरह बनानी चाहिए, जिससे लोगों का जीवन आरामदायक हो।

योगी के अनुसार अधिकारियों को वहीं पैसा खर्च करना चाहिए जिन परियोजनाओं से स्थानीय लोगों को लाभ पहुंचे। योगी ने आगे कहा कि अधिकारियों को विकास की योजना बनानी चाहिए जो दीर्घकालिक रूप से काम कर सके। साथ ही उन्होंने कहा कि जेवर हवाई अड्डा अगले कुछ वर्षों में तैयार हो जाएगा, इसलिए हवाई अड्डे के आसपास का विकास उस क्षेत्र की दीर्घकालिक आवश्यकताओं को ध्यान में रखते हुए किया जाना चाहिए।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.