Loading...

अगर आपने कि ये गलती तो फंस सकता है आपके PF का पूरा पैसा, जानिए इसके बारे में

0 29

ये तो सभी जानते हैं कि नौकरीपेशा लोगों के लिए प्रोविडेंट फंड का पैसा कितना जरूरी होता है और ये कितने मायने रखता है. यही वजह है कि पिछले कुछ समय में निकासी में काफी तेजी आई है. दरअसल, मुसीबत के वक्त लोग अपने ईपीएफ के पैसे का इस्तेमाल करते हैं.

लेकिन, कहीं आप अपने पीएफ अकाउंट में कोई गलती तो नहीं कर रहे तो इसका पता कैसे चलेगा. या फिर आपने अपना केवाईसी ध्यान से चेक किया है या नहीं, जी हां, इसको ध्यान से चेक करें कहीं आपके पीएफ अकाउंट और और आधार कार्ड में नाम और जन्‍मति‍थि अलग न हों. बता दें कि अगर ऐसा होगा तो भविष्य में आपको निकासी के वक्त दिक्कत का सामना करना पड़ सकता है.

दरअसल आपको बता दें कि डिटेल्स अलग होने पर आपका कोई भी क्‍लेम सेटल नहीं होगा. वहीं, रि‍टायरमेंट पर फंड नि‍कालने में भी परेशानी का सामना करना पड़ेगा.

जी हां, ऐसे में आपकी थोड़ी सी लापरवाही आप पर भारी पड़ सकती है. हालांकि, अगर समय रहते ध्‍यान दिया गया तो ऑनलाइन ही आपकी इस समस्‍या का समाधान नि‍कल सकता है. जी हां, बता दें कि आप खुद अपनी डि‍टेल में सुधार कर सकते हैं.

Loading...

बता दें कि पहले इन बदलाव को कराने के लिए कर्मचारी और नियोक्त दोनों को ज्वॉइंट रिक्वेस्ट देनी होती थी, जिसमें काफी समय लगता था. लेकिन ईपीएफओ ने पेपरवर्क और समय बचाने के लिए ऑनलाइन रिक्वेस्ट की सुविधा शुरू की थी.

मालूम हो कि कर्मचारी से रिक्वेस्ट मिलने के बाद सिस्टम उसकी तुलना UIDAI डाटा से करता है. वहीं दूसरी तरफ वेरिफिकेशन के बाद रिक्वेस्ट नियोक्ता के लॉगइन पर भेजी जाएगी. इसके बाद ईपीएफओ फील्ड ऑफिसर रिक्वेस्ट को वेरिफाई करेगा. इसके साथ ही किए गए सुधार/बदलाव की प्रॉसेसिंग का काम करेगा।

यूं ठीक करें अपनी डि‍टेल

Step 1: इसके लिए सबसे पहले EPFO के Unified Portal पर जाएं और फिर UAN और पासवर्ड डालकर लॉगइन करें.

Step 2: अब आप होम पेज पर “Manage>Modify Basic Details” सिलेक्ट करें, बता दें कि अगर आपका आधार वेरिफाइड है तो आप डिटेल्स एडिट नहीं कर सकते.

Step 3: इसके बाद सही डीटेल्स भरें (जो आपके आधार कार्ड में दर्ज है), फिर सिस्टम इसे आधार डाटा से वेरिफाई करेगा.

Step 4: बता दें कि डिटेल्स भरने के बाद “Update Details” पर क्लिक करें, इसके बाद जानकारी नियोक्ता को अप्रूवल के लिए भेजी जाएगी.

इम्पलॉयर करेगा ऐसे वेरिफाई

Step 1: बता दें कि सर्वप्रथम नियोक्ता EPFO Unified Portal पर लॉगइन कर, “Member>Details Change Request” पर क्लिक कर बदलावों को चेक कर सकते हैं.

Step 2: इसके बाद नियोक्ता जानकारी चेक कर उसे अप्रूव करेगा.

Step 3: बता दें कि अप्रूवल के बाद नियोक्ता स्टेटस अपडेट चेक कर सकते हैं.

Step 4: फिर इसके बाद नि‍योक्‍ता इस रि‍क्‍वेस्‍ट को ईपीएफओ ऑफि‍स को भेजेगा. जहां फील्‍ड ऑफि‍सर उसे क्रॉस चेक करेगा.

Step 5: बता दें कि इसके बाद अंत में रीजनल प्रोवि‍डेंट फंड कमि‍श्‍नर डि‍टले को सही होने पर अप्रूव कर देगा।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.