Loading...

इलाज न मिलने से अस्पताल के बाहर महिला ने तोड़ा दम, सास एवं ननद ने आधे किमी तक कांधे पर ढोया शव

0 415

राजस्थान के देवथला से इंसानियत को शर्मसार करने वाली खबर आई है। जी हां, यहां देवथला में सोमवार शाम करीब 5 बजे महिला ने इलाज न मिलने से अस्पताल के सामने दम तोड़ दिया। महिला के शव को उसकी सास और ननद ने आधा किलोमीटर तक कांधे पर ढोया, इसके बाद पहुंचे अन्य परिजन बाइक से शव को घर ले गए। दरअसल यह महिला एक हफ्ते से बीमार चल रही थी। परिजन उसे अस्पताल छोड़ गए थे।

दरअसल देवथला की हेमा पत्नी सांवरमल बारिया थी। बता दें कि वह ननद कमली देवी के साथ सोमवार सुबह निवाणा पीएचसी अस्पताल में दिखाने आई थी। चिकित्सकों ने जांच के बाद महिला को घर भेज दिया। लेकिन, ननद ने हेमा को घर ले जाने के बजाय अस्पताल के सामने पंचायत भवन के बरामदे में बैठाकर चली गई।

मालूम हो कि यहां महिला की मौत हो गई। सास शांति देवी ने बताया कि हेमा बावरिया करीब एक हफ्ते से बीमार चल रही थी। सोमवार को भी उसे अस्पताल पहुंचाया था।

इसके बाद शाम के 5 बजे गांव के लोगों ने महिला को बेसुध हालत में देखा। फिर इसकी सूचना गोविंदगढ़ थान एसएसओ पृथ्वी पाल सिंह को दी। बता दें कि जब तक पुलिस मौके पर पहुंचती, उससे पहले सास और ननद आकर महिला के शव को कांधे पर रखकर चल पड़ीं। दरअसल बीच रास्ते से परिजन बाइक पर रखकर महिला के शव को घर ले गए। बाद में पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लिया।

Loading...

आपको बता दें कि अस्पताल के सामने बीमार महिला की किसी ने सुध तक नहीं ली। दरअसल शाम को महिला के आसपास कुत्तों का झुंड तक कुछ लोगों की नजर पड़ी।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.