Loading...

5 लाख रुपए में शुरू हो जाएगा ये बिजनेस, होगी अच्छी-खासी कमाई, मोदी सरकार देगी 75% तक लोन

0 30

अगर आप कुछ अलग बिजनेस शुरू करना चाहते हैं तो बता दें कि आप पॉल्‍ट्री बिजनेस शुरू कर सकते हैं। जी हां, दरअसल यह एक ऐसा खास बिजनेस है जिसमें सरकार भी पूरा सपोर्ट करती है। जी हां, दरअसल सरकारी एजेंसी नाबार्ड नेशनल बैंक फॉर एग्रीकल्‍चर एंड रूरल डेवलपमेंट द्वारा पॉल्‍ट्री बिजनेस का पूरा सपोर्ट किया जाता है। दरअसल हम आपको न केवल यह बताएंगे कि यह बिजनेस कैसे किया जा सकता है, बल्कि यह भी बताएंगे कि कैसे आप नाबार्ड से सपोर्ट भी ले सकते हैं।

बता दें कि सर्वप्रथम आपके लिए यह जानना जरूरी है कि पॉल्‍ट्री बिजनेस दो तरह का होता है। जी हां, पहला है अंडों का बिजनेस और दूसरा है चिकन का। बता दें कि यदि आप अंडे का बिजनेस करना चाहते हैं तो आपको लेयर मुर्गियां पालनी होगी और इसी प्रकार यदि आप चिकन का बिजनेस करना चाहते हैं तो आपको ब्रायलर मुर्गियां पालनी होंगी।

कितना आएगा खर्च

Loading...

आपको बता दें कि नाबार्ड द्वारा तैयार किए गए मॉडल प्रोजेक्‍ट्स के मुताबिक यदि आप पॉल्‍ट्री ब्रायलर फार्मिंग करना चाहते हैं और कम से कम 10 हजार मुर्गियों से शुरूआत करना चाहते हैं तो आपको 4 से 5 लाख रुपए का इंतजाम करना होगा, जबकि बैंक आपको लगभग 75 % यानी कि 27 लाख रुपए तक का लोन मिल जाएगा।

इसी हिसाब से यदि आप 10 हजार मुर्गियों से पॉल्‍ट्री लेयर फार्मिंग करना चाहते हैं तो आपको 10 से 12 लाख रुपए का इंतजाम करना होगा और बैंक आपको 40 से 42 लाख रुपए तक का लोन मिल सकता है। बता दें कि बैंक से आसानी से लोन लेना हो तो उसके लिए नाबार्ड कंसलटेंसी सर्विस की सहायता भी ली जा सकती है।

इनकम होगी इतनी

मालूम हो कि नाबार्ड के अनुसार एक स्‍वस्‍थ चूजा 16 से 18 रुपए में मिल जाता है। इसी तरह ब्रायलर चूजा अच्‍छा व पौष्टिक आहार मिलने पर 40 दिन में एक किलोग्राम हो जाता है, जबकि लेयर ब्रिड के चूजे 4 से 5 महीने में अंडे देना शुरू कर देते हैं और औसतन डेढ़ साल तक लगभग 300 अंडे देते हैं।

दरअसल नाबार्ड के मॉडल प्रोजेक्‍ट के मुताबिक ब्रायलर फार्मिंग में आप लगभग 70 लाख रुपए तक कमाई कर सकते हैं, जबकि आपका कुल खर्च 64 से 65 लाख रुपए तक हो सकता है। बता दें कि इसमें चूजे की खरीद, दाना, दवाइयां, इंश्‍योरेंस, शेड का किराया, बिजली का बिल, ट्रांसपोर्टेशन आदि शामिल होता है। इसका मतलब यह हुआ कि आप 4 से 5 महीने में लगभग 15 लाख रुपए की कमाई कर सकते हैं।

अंडों से कमाई होगी इतनी

आपको बता दें कि यदि आप 10 हजार मुर्गियों से ब्रायलर फार्मिंग का बिजनेस शुरू करते हैं तो आप पहले साल में लगभग 35 लाख रुपए के अंडे बेच सकते हैं। इसके साथ ही, एक साल बाद मुर्गियों को चिकन के लिए बेच दिया जाता है। बता दें कि इससे लगभग 5 से 7 लाख रुपए की आमदनी हो सकती है। वहीं कुल खर्च लगभग 25 से 28 लाख रुपए का होगा और इस हिसाब से आप साल भर में 12 से 15 लाख रुपए का प्रॉफिट कमा सकते हैं।

इतने स्‍पेस की होगी आवश्यकता

पॉल्‍ट्री फार्मिंग बिज़नेस की खास बात यह है कि ऐसा जरूरी नहीं कि आप किसी विकसित इलाके में ही पॉल्‍टी फार्मिंग करें, हालांकि इतना जरूर है कि पॉल्‍ट्री फार्म शहर के निकट ही हो और वहां तक वाहनों का आना जाना आसान हो।

दरअसल कितने स्‍पेस की जरूरत पड़ेगी, यह इस बात पर सबसे ज्यादा निर्भर करता है कि आप कितनी मुर्गियों से अपना बिजनेस शुरू करना चाहते हैं। बता दें कि ऐसा माना जाता है कि एक मुर्गी को कम से कम 1 वर्ग फुट की जरूरत पड़ती है और यदि यह स्‍पेस 1.5 वर्ग फुट हो तो अंडों या चूजों के नुकसान की आशंका काफी कम हो जाती है। इसके अलावा फार्मिंग ऐसी जगह पर करनी चाहिए, जहां बिजली का पर्याप्‍त इंतजाम भी हो।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.