Loading...

LIC पॉलिसी लेते वक्त भूलकर भी मत ना छुपाएं ये जानकारी, वरना डूब सकता है आपका पूरा पैसा

0 20

जब बात इंश्योरेंस की आती है तो लाइफ इंश्योरेंस कॉरपोरेशन यानी कि LIC को सबसे भरोसेमंद इंश्योरेंस कंपनी माना जाता है. दरअसल इसमें निवेश करने वाले अपने पैसे को सेफ मानते हैं. खास बात यह है कि सरकारी कंपनी होने और आपके निवेश पर सरकारी गारंटी के चलते भरोसा और बढ़ जाता है.

हालांकि, LIC की पॉलिसी लेते समय अगर अपने कुछ गलती कर दी तो आपके पूरा पैसे डूब सकता है. जी हां, दरअसल निवेश करने से पहले अगर डॉक्यूमेंट्स को जानकारी छुपी रह गई तो आपको आगे चलकर नुकसान हो सकता है.

ये करेंगे तो लग सकता है झटका

आपको बता दें कि, पॉलिसी खरीदते वक्त कई बार हम डॉक्यूमेंटेशन में नहीं फंसना चाहते. काम आसानी से हो जाए और कम प्रीमियम में आपको ज्यादा मुनाफे की चाहत रहती है. लेकिन, इस आसानी के चक्कर में आप एजेंट के काम को और आसान करते हैं.

Loading...

जी हां, दरअसल कई पॉलिसी में मेडिकल टेस्ट जरूरी होता है, लेकिन ज्यादातर मामलों में लोग इससे बचना चाहते हैं. मालूम हो कि कई बार बिना मेडिकल एग्जामिन के ही हम लोग पॉलिसी ले लेते हैं. लेकिन आपको बता दें कि अपनी बीमारी से संबंधित जानकारी छुपाना सही नहीं है. दरअसल यहीं निवेशक से गलती होती है.

इसके अलावा बीमा एजेंट के बहकावे में अगर कोई सूचना आपसे छुपाई जाती है तो उसका खामियाजा आपको या नॉमिनी को भुगतना पड़ता है. ऐसे में सरकार अक्सर गाइडलाइन जारी करती है कि बीमा एजेंट, ग्राहक को हर बात सच-सच बताएं. इसके बावजूद भी प्लान लेने के लिए ग्राहकों को फोर्स नहीं किया जा सकता.

ये किया तो डूब जाएगा आपका पैसा

यहां आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भविष्य में क्लेम के वक्त कंपनी पूरी छानबीन करती है. खासकर मृत्यु के मामले में कंपनी इस बात की भी जानकारी लेती है कि कहीं आपने अपनी किसी बीमारी की हिस्ट्री को तो नहीं छुपाया था. दरअसल अगर कोई बात छुपाई जाती है या फिर उसका प्रमाण नहीं दिया जाता तो कंपनी नॉमिनी को क्लेम की रकम देने से इनकार कर सकती है. जी हां, और ये तो जाहिर है कि ऐसी स्थिति में आपका निवेश किया पैसा डूब जाएगा.

एजेंट के चिकनी चुपड़ी बातों में न आएं

आपको बता दें कि पॉलिसी देने से पहले अगर कोई एजेंट यह कहता है कि इस पॉलिसी का रिटर्न 15-18 % के बीच हो सकता है तो जरूरी नहीं है कि ऐसा ही हो. जी हां, दरअसल ऐसा इसलिए क्योंकि, किसी भी पॉलिसी में इतना रि‍टर्न मिलना बेहद मुश्किल है.

खासकर ऐसी पॉलिसी जो एक वर्ग के लिए चलाई जा रही है उसमें निवेश पर इतना बड़ा रिटर्न संभव नहीं होता. इसका मतलब ऐसी स्थिति में यह साफ है कि आपको गलत जानकारी दी जा रही है. इसलिए पॉलिसी लेने से पहले एक बार इसकी जानकारी जरूर लें.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.