Loading...

जगमोहन रेड्डी के मंत्रिमंडल में अलग-अलग समुदाय से होंगे 5 उपमुख्यमंत्री, ऐसा करने वाले बने पहले सीएम

0 30

राजनीति में कब क्या हो जाए इसका कोई भरोसा नहीं. जी हां, दरअसल ऐसा ही कुछ आंध्र प्रदेश में इन दिनों हो रहा है. दरअसल आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री जगनमोहन रेड्डी ने शुक्रवार को अपने 25 सदस्यीय मंत्रिमंडल में एक नहीं, दो नहीं, बल्कि पूरे 5 उपमुख्यमंत्री नियुक्त किए।

आपको बता दें कि वे ऐसा करने वाले पहले मुख्यमंत्री बन गए हैं। मालूम हो कि सीएम हाउस में हुई वाईएसआर कांग्रेस नेताओं की बैठक में यह फैसला लिया गया। बता दें कि नए मंत्री शनिवार को शपथ लेंगे।

मालूम हो कि वाईएसआर कांग्रेस के विधायक मुस्तफा शेख ने बताया कि कैबिनेट में शामिल पांचों डिप्टी सीएम अलग-अलग समुदाय अनुसूचित जाति, अनुसूचित जनजाति, पिछड़ा वर्ग, अल्पसंख्यक और कापू समुदाय से होंगे। उनका मानना है कि हम सरकार में सभी वर्गों को बराबर प्रतिनिधित्व देने की कोशिश कर रहे हैं।

मालूम हो कि जगनमोहन राज्य के सबसे बेहतर मुख्यमंत्री साबित होंगे। यहां बता दें कि चंद्रबाबू नायडू की अगुआई वाली पिछली तेदेपा सरकार में दो उपमुख्यमंत्री कापू समुदाय और पिछड़ा वर्ग से थे।

Loading...

सीबीआई को लेकर नायडू सरकार लिया ये फैसला

मालूम हो कि जगनमोहन सरकार ने गुरुवार को चंद्रबाबू नायडू की सरकार के उस विवादित फैसले को बदल दिया था, जिसके तहत सीबीआई को राज्य में जांच और छापेमार कार्रवाई करने की अनुमति पर रोक लगी थी। बता दें कि सीबीआई को अब राज्य में किसी भी भ्रष्टाचार या अन्य मामलों में कार्रवाई का पूरा अधिकार होगा।

दरअसल 8 नवंबर 2018 को तत्कालीन तेदेपा सरकार ने सरकारी आदेश जारी कर उस आम सहमति को वापस ले लिया था, जिसके तहत सीबीआई को राज्य में कार्रवाई का अधिकार मिला था।

जगनमोहन ने हराया चंद्रबाबू नायुडु को

आपको बता दें कि 46 साल के जगनमोहन आंध्र प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री वायएस राजशेखर रेड्डी के बेटे हैं। दरअसल वे कडपा लोकसभा सीट से सांसद रह चुके हैं। उन्होंने विधानसभा चुनाव में चंद्रबाबू नायडू को हराया था। चुनाव में वायएसआर कांग्रेस ने 175 में से 151 विधानसभा सीटें अपने नाम कीं, जबकि राज्य में लोकसभा की 25 में से 22 सीटें भी जीतीं।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.