Loading...

एक्सीडेंट का लिया फोटो या बनाया वीडियो तो लग सकता है जुर्माना, हो सकती है जेल भी

0 24

जब बात रोड एक्ससीडेंट्स की आती है तो
भारत में ये अक्सर देखा जाता है कि एक्सीडेंट स्पॉट पर आम लोगों की काफी भीड़ लग जाती है। हालांकि यह भीड़ मदद करने वालों की नहीं, बल्कि सेल्फी, फोटो और वीडियो बनाने वालों की होती है। इसकी वजह से एक्सीडेंट में घायल लोगों को अस्पताल पहुंचाने में दिक्कत होती है।

दरअसल ऐसे में नोएडा पुलिस ने गुरुवार को एक बड़ा फैसला लिया है। इसके तहत एक्सीडेंट स्पॉट पर फोटोग्राफी और वीडियोग्राफी करने वालों को जेल जाना पड़ सकता है साथ ही जुर्माना भी लगाया जा सकता है।

सेल्फी लेना पड़ सकता है महंगा

आपको बता दें कि एक अंग्रेजी अखबार में छपी रिपोर्ट के मुताबिक नोएडा एसपी ट्रैफिक अनिल कुमार झा ने कहा है कि हाल ही में एक्सीडेंट के ऐसे काफी मामले सामने आए हैं, जिसमें इलाज में देरी की वजह से घायल की मौत हो गई है।

Loading...

दरअसल सुप्रीम कोर्ट ने भी सभी नागरिकों को निर्देश दिया है कि पहले एक्सीडेंट के घायल व्यक्ति को अस्पताल ले जाया जाए। लेकिन हमने यह अनुभव जरूर किया है कि एक्सीडेंट स्पॉट पर लोग अपने गाड़ी रोककर सेल्फी और वीडियो लेते है और इसके वजह से घायल तक प्राथमिक उपचार पहुंचाना मुश्किल हो जाता है।

कमाई की वजह से लोग बना रहे वीडियो

दरअसल अधिकारियों का कहना है कि एक्सीडेंट का वीडियो टीवी चैनल वाले काफी पैसों में खरीद लेते हैं। यही कारण है कि लोगों में एक्सीडेंट का वीडियो बनाने का काफी क्रेज देखा गया है। इसके साथ ही सोशल मीडिया पर भी इस तरह के वीडियो पोस्ट करने का एक चलन है, जो इस तरह की घटनाओं को अंजाम देता है।

गिरफ्तारी का है ये प्रावधान

आपको बता दें कि एक्सीडेंट का वीडियो बनाने या फिर सेल्फी लेने पर मोटर व्हीकल एक्ट की धारा 122 और 177 के तहत गिरफ्तारी का प्रावाधान है साथ ही जुर्माना भी लगाया जा सकता है। दरअसल सेक्शन 177 के तहत 100 रुपए से लेकर 300 रुपए का जुर्माना लगाया जा सकता है। इसके साथ ही व्यक्ति को गिरफ्तार भी किया जा सकता है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.