Loading...

मिस यूनिवर्स बनने के लिए सुष्मिता सेन की इस कांग्रेसी नेता ने की थी मदद, जिंदगी भर नहीं भुला पाएंगी

0 19

बॉलीवुड की अभिनेत्री सुष्मिता सेन मिस यूनिवर्स का खिताब जीतने वाली पहली भारतीय महिला है। मिस यूनिवर्स बनने के लिए उनको काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ा जिनके बारे में बहुत ही कम लोग जानते हैं। एक पल ऐसा आया जब शो के आयोजक सुष्मिता सेन की जगह ऐश्वर्या राय को भेजने के बारे में विचार करने लगे थे। हाल ही में उन्होंने एक इंटरव्यू दिया जिसमें उन्होंने यह किस्सा बताया। उन्होंने बताया कि एक ऐसा पल आया कि मेरा सपना टूटने वाला था।

सुष्मिता सेन ने इंटरव्यू में कहा कि मैं फिलीपींस में मिस यूनिवर्स कॉन्टेस्ट में जाने वाली थी। लेकिन उससे पहले मेरा पासपोर्ट खो गया। इवेंट की मैनेजर अनुपमा वर्मा ने मेरा पासपोर्ट कहीं गिरा दिया। बांग्लादेश में एक शो हुआ था तब उनके पास मेरा पासपोर्ट था। आईडी प्रूफ के लिए उन्हें इसकी आवश्यकता थी। मुझे विश्वास था कि मेरा पासपोर्ट सही हाथों में है। लेकिन जब उन्होंने पासपोर्ट ढूंढना शुरू किया तो उन्हें नहीं मिला। इसकी जिम्मेदारी अनुपमा ने खुद ली।

मैं काफी निराश हो गई थी। शो के ऑर्गेनाइजर ज्यादा सपोर्ट नहीं करते थे। वह ऐश्वर्या राय को मेरी जगह भेजना चाहते थे। मुझे बताया गया कि अब इतनी जल्दी पासपोर्ट तैयार नहीं हो सकता। अब आप बाद में जाएं तब तक आपका पासपोर्ट रेडी हो जाएगा। इसके बारे में मैंने अपने पापा को इंफॉर्मेशन दी। लेकिन वह कुछ नहीं कर सकते थे क्योंकि उनकी प्रतिष्ठित लोगों के साथ जान पहचान नहीं थी। मुझे काफी परेशानी हुई। मैं रोती हुई अपनी पापा के सामने पहुंची। मैंने उनको कहा कि मैं किसी और चीज के लिए नहीं जा रही हूं। लेकिन मैं इसके काबिल हूं। बाद में मेरे पापा ने राजेश पायलट से बातचीत की और उन्होंने मेरी काफी मदद की। 1994 में सुष्मिता सेन मिस यूनिवर्स चुनी गई थी।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.