Loading...

फॉर्म-16 को लेकर हुआ है बड़ा बदलाव, हर नौकरीपेशा व्यक्ति पर होगा सीधा असर, जानिए

0 25

इस साल अगर टैक्स रिटर्न फाइल करना है तो बता दें कि असेसमेंट ईयर 2019-20 के लिए इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की अंतिम तारीख 31 जुलाई 2019 है. लेकिन इस साल रिटर्न फाइल करने की अंतिम तारीख बढ़ सकती है क्योंकि CBDT ने फॉर्म 16 जारी करने की आखिरी तारीख बढ़ा दी है. सिर्फ इतना ही नहीं साथ ही वित्त वर्ष 2018-19 के लिए फॉर्म 24Q फाइल करने की आखिरी तारीख भी बढ़ा दी गई है.

आपको बता दें कि CBDT के 4 मई 2019 के ऑर्डर के मुताबिक, TDS रिटर्न यानी कि फॉर्म 24Q की आखिरी तारीख 31 मई 2019 से बढ़ाकर 20 जून 2019 कर दिया है. इसके साथ ही फॉर्म 16 जारी करने की आखिरी तारीख 15 जून 2019 से बढ़ाकर 10 जुलाई 2019 कर दिया है. दरअसल इससे पहले 24Q फॉर्म फाइल करने की आखिरी तारीख 31 मई थी. हालांकि अब इसे बढ़ाकर 30 जून कर दिया गया है.

यह है फॉर्म 16

आपको बता दें कि कंपनियां कर्मचारियों को जून के मध्‍य तक एक फॉर्म भेजती है, जिसे फॉर्म- 16 कहा जाता है. दरअसल इस फॉर्म के जरिए कंपनी यह जानकारी साझा करती है कि आपकी सैलरी में जो TDS बनता था, वह काटने के बाद आयकर विभाग के पास जमा कर दिया गया है. बता दें कि इस फॉर्म में वो सभी जानकारियां होती हैं, जिनकी जरूरत आयकर रिटर्न भरने के लिए पड़ती हैं.

Loading...

ये बदलाव हुआ है

मालूम हो कि इससे पहले मई की शुरुआत में फॉर्म 24Q में अहम बदलाव किए गए थे. इस बदलाव के मुताबिक, कंपनी को फॉर्म 16 के पार्ट B में एक्युरेट TDS सर्टिफिकेट की जानकारी देनी होगी. दरअसल 24Q, सैलरी पर कटने वाले टैक्स का तिमाही स्टेटमेंट है.

बता दें कि अगर इनकम टैक्स रिटर्न फाइल करने की आखिरी तारीख 31 जुलाई ही रहती है तो कई एंप्लॉयर्स रिटर्न फाइल करने की डेडलाइन मिस कर सकते हैं. मतलब यह है कि 10 जुलाई को फॉर्म 16 जारी होता है तो कई लोग 31 जुलाई से पहले रिटर्न फाइल नहीं कर पाएंगे.

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.