व्हाट्सऐप में सेंध, फोन में अपने आप ही इंस्टॉल हो गया ये जासूसी वाला सॉफ्टवेयर, जानें कैसे बचें

0 210

अगर आप भी व्हाट्सऐप का इस्तेमाल करते हैं तो ये खबर आपके लिए बेहद जरूरी है। जी हां, दरअसल दुनिया की सबसे बड़ी सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक ने स्वीकार किया है कि उसकी इंस्टैंट मैसेजिंग ऐप व्हाट्सऐप में एक सुरक्षा चूक के चलते लोगों के मोबाइल फोन में जासूसी सॉफ्टवेयर इंस्टॉल हो गया है। दरअसल ब्रिटेन के अखबार फाइनेंशियल टाइम्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक ये सॉफ्टवेयर एक इसराइली कंपनी ने विकसित किया है।

Loading...

Loading...

मालूम हो कि इस जासूसी सॉफ्टवेयर को व्हाट्सऐप कॉल के जरिए लोगों के फोन में इंस्टॉल किया गया है। दरअसल रिपोर्ट के मुताबिक यदि कोई यूजर कॉल का जबाव नहीं देता है तब भी उसके फोन में ये सॉफ्टवेयर इंस्टॉल किया जा सकता है। बता दें कि कनाडा के शोधकर्ताओं के मुताबिक इस जासूसी सॉफ्टवेयर से मानवाधिकार कार्यकर्ताओं और अधिवक्ताओं को निशाना बनाया गया है।

बता दें कि इस रिपोर्ट के मुताबिक फेसबुक के इंजीनियर इस सुरक्षा चूक को ठीक करने में रविवार तक जुटे थे। दरअसल फेसबुक ने ग्राहकों से कहा है कि वो नए वर्जन को अपडेट कर लें अभी ये पता नहीं है कि कितने लोगों को इस साइबर हमले का निशाना बनाया गया है।

हालांकि यह भी माना जा रहा है कि इस हमले में बेहद चुनिंदा लोगों को ही निशाना बनाया गया है। जानकारी के लिए बता दें कि दुनियाभर में डेढ़ सौ करोड़ से अधिक लोग व्हाट्सऐप इस्तेमाल करते हैं।

क्या करना चाहिए आपको

अब प्रश्न यह उठता है कि अगर आपके फोन में भी जासूसी वाला सॉफ्टवेयर इंस्टॉल हो गया है तो आपको ऐसे में क्या करना चाहिए। दरअसल ऐसी स्थिति में पहला काम यह है कि आप अपने व्हाट्सऐप ऐप को फटाफट अपडेट करें।

फिर इसके बाद अपने फोन के डाउनलोड फोल्डर में जाएं और देखें कि ऐसी कोई फाइल डाउनलोड हुई है क्या जिसे आपने डाउनलोड किया ही नहीं है। यदि ऐसी कोई फाइल मिलती है तो उसे तुरंत डिलीट करें और संभव हो तो फोन को एक बार फैक्ट्री रीसेट कर दें।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.