Loading...

2 साल में जब्त की गई 6900 करोड़ की बेनामी संपत्ति, आयकर विभाग ने दी इसकी जानकारी

0 19

आयकर विभाग ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। जी हां, दरअसल एक आंकड़े के मुताबिक आयकर विभाग बेनामी संपत्ति लेनदेन कानून के तहत अब तक करीब 6900 करोड़ रुपए की संपत्ति जब्त कर चुका है। स्वयं आयकर विभाग ने यह जानकारी मंगलवार को एक विज्ञापन के जरिए दी।

दोषी पाए जाने पर 7 साल की जेल का है नियम

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बेनामी संपत्तियों पर रोक लगाने के उद्देश्य से केंद्र की मोदी सरकार ने बड़ा कदम उठाते हुए बेनामी लेनदेन कानून में 2016 में संशोधन किया था।

इस संशोधन में बेनामी संपत्ति को सील करने और उसे जब्त करने का अधिकार जोड़ा गया है। इसके अलावा इस नए कानून के मुताबिक बेनामी संपत्ति पाए जाने पर सजा की अवधि को 3 साल से बढ़ाकर 7 साल और बेनामी संपत्ति के बाजार मूल्य के 25 % के बराबर जुर्माने का प्रावधान किया गया है।

Loading...

गलत सूचना दी तो जाना पड़ेगा जेल

दरअसल आयकर विभाग लोगो को जागरूक करने हेतु एक विज्ञापन दिया है। इस विज्ञापन में आयकर विभाग ने लोगों से गलत सूचना नहीं देने को कहा है। विभाग के मुताबिक यदि कोई व्यक्ति गलत सूचना देने का आरोपी पाया जाता है तो उस 5 साल की जेल या बेनामी संपत्ति के बाजार मूल्य के 10 % के बराबर जुर्माना या दोनों का दंड लगाया जा सकता है।

क्या होती है बेनामी संपत्ति

आपको बता दें कि जब कोई चल या अचल संपत्ति किसी बेनाम व्यक्ति को ट्रांसफर कर दी जाती है लेकिन उसका असली फायदा ट्रांसफर करने वाले को ही मिलता है तो वह बेनामी संपत्ति कहलाती है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.