Loading...

10वीं के छात्र को मां को गेहूं साफ करते हुए देख आया IDEA, और बना दी अनोखी क्लोनिंग मशीन

0 193

राजस्थान के बारा जिले के एक छात्र ने कमाल की इन्वेंशन करके कमाल कर दिया है। भारतीय तकनीकी प्रौद्योगिकी विभाग की ओर से आयोजित इंस्पॉयर अवार्ड में छात्र का राष्ट्रीय स्तर मॉडल प्रदर्शनी में चयन भी हुआ है।

दरअसल कक्षा 10 के छात्र अदिश गोयल ने अनाज ग्रेडिंग प्लांट बनाया है, जिसका चयन राष्ट्रीय स्तर मॉडल प्रदर्शनी में हुआ है। इस मॉडल से बने प्लांट से अनाज सहित कृषि उपज कम समय में साफ हो सकेगी।

इससे किसानों को उपज के सही दाम मिल सकेंगे। अब मॉडल फरवरी माह में दिल्ली में आयोजित होने वाली राष्ट्रीय स्तरीय मॉडल प्रदर्शनी में वैज्ञानिकों व अधिकारियों के समक्ष प्रस्तुत किया जाएगा।

Loading...

80 मॉडल में बाजी मारी इस छात्र के इनोवेशन ने

बता दें कि सरकार की ओर से मॉडल तैयार करने के लिए सहायता राशि भी दी जाती हैं। दरअसल विभाग की ओर से बीकानेर में 22 व 23 जनवरी को मॉडल प्रदर्शनी में राज्यभर के करीब 80 विद्यार्थियों ने मॉडल प्रस्तुत किए गए थे।

इस दौरान बेहतर तकनीकी मॉडल होने पर राज्य के कुल 6 विद्यार्थियों का राष्ट्रीय स्तरीय प्रदर्शनी के लिए चयन हुआ है। जिसमें राजकीय आदर्श उच्च माध्यमिक स्कूल छीपाबड़ौद में कक्षा 10वीं में पढ़ने वाले छात्र आदिश की ओर से बनाए अनाज ग्रेडिंग मॉडल भी शामिल है।

मां को गेहूं साफ़ करते देख आया आइडिया

आदिश ने कहा कि घर पर मां को गेहूं व अन्य अनाज की सफाई करते देख मुझे यह आइडिया आया। उसने बताया कि घर पर एक क्विंटल गेहूं की सफाई करने में ही दो से तीन दिन लगते हैं। इसलिए अनाज क्लिनिंग मशीन का मॉडल तैयार किया। छात्र आदिश का कहना है कि इस मशीन में एक बैट्री, मोटर व ग्रेडिंग के लिए तीन छलनियां लगी हुई हैं।

उसने बताया कि मोटर चालू होने पर ऊपरी हिस्से पर लगे बॉक्स में डाला गया अनाज तीन छलनियों से साफ होता हुआ नीचे की ओर से एक तरफ गिरता है तथा दूसरी तरफ कचरा निकल आता है।

Loading...

Leave A Reply

Your email address will not be published.